script आरपीएससी के एग्जाम में चार घंटे बंद रहेगा इंटरनेट, यह है खास वजह | Internet remain close for four hours during RPSC exam | Patrika News

आरपीएससी के एग्जाम में चार घंटे बंद रहेगा इंटरनेट, यह है खास वजह

locationअजमेरPublished: Jan 05, 2024 10:16:52 pm

Submitted by:

raktim tiwari

वॉइस कॉल, ब्रॉण्ड बैण्ड एवं लीज लाइन डाटा की सुविधा इससे अप्रभावित रहेगी।

Internet remain close for four hours during RPSC exam
Internet remain close for four hours during RPSC exam

राजस्थान लोक सेवा आयोग की रविवार को होने वाली सहायक आचार्य, पुस्तकालयाध्यक्ष एवं शारीरिक प्रशिक्षण अनुदेशक परीक्षा-2023 के तहत सुबह 7 से 11 बजे तक अजमेर जिला मुख्यालय पर इंटरनेट सेवा बंद रहेगी।

कार्यवाहक सम्भागीय आयुक्त डॉ. भारती दीक्षित ने बताया कि इस दौरान 2जी, 3जी, 4जी, 5जी, इन्टरनेट सेवा, बल्क एसएमएस, एमएमएस, व्हाटसएप, फेसबुक, ट्विटर अन्य सोशल मीडिया सेवा अस्थायी रूप से निलम्बित रहेंगी। वॉइस कॉल, ब्रॉण्ड बैण्ड एवं लीज लाइन डाटा की सुविधा इससे अप्रभावित रहेगी।

पढ़ें यह खबर भी: डमी अभ्यर्थी बैठाने के मामले में दो व्याख्याता व एक फिजियोथैरेपिस्ट गिरफ्तार

अजमेर/जयपुर. स्पेशल आपॅरेशन ग्रुप (एसओजी) ने स्कूल व्याख्याता प्रतियोगिता परीक्षा-2022 में डमी अभ्यर्थी बैठाने के मामले में दो राजकीय व्याख्याताओं को गिरफ्तार किया है। वहीं, आरएएस प्री परीक्षा-2014 पेपर लीक प्रकरण में वांछित चल रहे गवर्नमेंट फिजियोथैरेपिस्ट को गिरफ्तार किया है। पेपर लीक की घटनाओं को रोकने के लिए बनी एसआईटी की सूचना पर एसओजी ने यह कार्रवाई की।

एडीजी वी. के. सिंह ने बताया कि राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से 17 अक्टूबर 2022 को स्कूल व्याख्याता प्रतियोगिता परीक्षा का आयोजन किया गया। अजमेर के सिविल लाइन थाने में दर्ज प्रकरण में गुरुवार को जालोर के बागोड़ा डूंगरवा निवासी अर्जुन कुमार (37) को गिरफ्तार किया। आरोपी अर्जुन राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भागल सेफ्टा तहसील भीनमाल जिला जालोर में राजनीति विज्ञान विषय के व्याख्याता के पद पर कार्यरत था। आरोपी ने परीक्षार्थी लाखाराम और डमी अभ्यर्थी अशोक कुमार के बीच कड़ी के रूप में कार्य किया था। इसी मामले में बुधवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय साविधर जसवंतपुरा जालोर में राजनीति विज्ञान के व्याख्याता पद पर कार्यरत अशोक कुमार को गिरफ्तार किया था। अशोक ने इस परीक्षा में लाखाराम निवासी रुचियार थाना भीनमाल जिला जालोर के स्थान पर जोधपुर के जालोरी गेट स्थित महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय में सामान्य ज्ञान एवं राजनीति विज्ञान विषय की डमी अभ्यर्थी के रूप में परीक्षा दी थी। पुलिस प्रकरण में पूर्व में लाखाराम व बिचौलिए हीराराम को गिरफ्तार कर लिया। दोनों न्यायिक अभिरक्षा में चल रहे हैं।इसको भी पकड़ा

एडीजी ने बताया कि आरएएस प्री परीक्षा 2014 पेपर लीक प्रकरण में एसओजी थाने में दर्ज प्रकरण में लंबे समय से वांछित चल रहे आरोपी कपिल कुमार भारद्वाज (36) निवासी मोहन नगर थाना नई मंडी हिंडौन सिटी को गिरफ्तार किया। आरोपी कपिल महुवा हॉस्पिटल में फिजियोथैरेपिस्ट के पद पर पदस्थापित था।आरोपी 8 तक रिमांड पर

एसओजी एएसपी सुनिल कुमार तेवतिया ने बताया कि 3 जनवरी को गिरफ्तार जालौर जसवंतपुरा गिरफ्तार राजनीति विज्ञान व्याख्याता अशोक कुमार व उसके सहयोगी अर्जुन कुमार को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया। अदालत ने दोनों को 8 जनवरी तक रिमांड पर सौंपा है। एसओजी दोनों से प्रकरण में गहनता से पडताल में जुटी है।

ट्रेंडिंग वीडियो