Jee Main: संक्रमित छात्र नहीं आए सेंटर,भेज दें कोरोना रिपोर्ट और प्रवेश पत्र

कोरोना संक्रमित विद्यार्थियों को सेंटर नहीं आना होगा। वे एडमिट कार्ड और कोरोना रिपोर्ट केंद्र पर भेजेंगे।

By: raktim tiwari

Updated: 02 Sep 2020, 06:50 AM IST

अजमेर.

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के तत्वावधान में जेईई मेन परीक्षा जारी है। कोरोना लेकर विद्यार्थी चिंतित और खौफजदा हैं। विद्यार्थी पुख्ता जांच के बाद मास्क पहनकर ऑनलाइन परीक्षा दे रहे हैं। उधर कुछ केंद्रों पर कोरोना पॉजीटिव छात्र पहुंचने के बाद एनटीए ने गाइड लाइन जारी की है। इसके मुताबिक कोरोना संक्रमित विद्यार्थियों को सेंटर नहीं आना होगा। वे एडमिट कार्ड और कोरोना रिपोर्ट केंद्र पर भेजेंगे।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के तत्वावधान में जेईई मेन-2020 कराई जा रही है। गेगल में परीक्षा केंद्र बनाया गया है। कोरोना संक्रमण के चलते विद्यार्थियों में भय है। जयपुर और अन्य केंद्रों पर कोरोना संक्रमित छात्र के पहुंचने पर एनटीए ने नई गाइड लाइन जारी की है।

कोई तड़के 2 तो कोई निकला 5 बजे
कोरोना संक्रमण में निकटवर्ती परीक्षा केंद्र के एनटीए के दावे खोखले निकले। चित्तौडगढ़़ के राजेंद्र व्यास अपनी बेटी को लेकर अलसुबह 2 बजे अजमेर के लिए निकले। इसी तरह शाहपुरा के थानसिंह परिहार भी सुबह 3 बजे निकले। ब्यावर की इन्दिरा शर्मा रोडवेज से सुबह 5 बजे रवाना होकर 7 बजे अजमेर पहुंची।

बैठना पड़ा वाहनों-थडिय़ों में
अधिकांश परिजन कार या जीप में ही बैठे रहे। बरसात से बचाव के लिए टेंट भी नहीं लगाया गया। टॉयलेट के लिए इधर-उधर भटकना पड़ा। गेगल औद्योगिक क्षेत्र में सिर्फ चाय-कचौड़ी की दुकानें ही थीं। हालात से वाकिफ कई परिजन अपने साथ 10 से 15 लीटर पानी की केन, सुबह-शाम का भोजन भी साथ लाए। उन्होंने जिन परिजनों के पास भोजन-पानी नहीं था, उनकी मदद की।

लगाया जैमर, पुलिस तैनात
कंप्यूटर आधारित परीक्षा होने और नकल रोकने के लिए केंद्र पर जैमर लगाया गया है। इससे मोबाइल पर इंटरनेट ठप हैं। केंद्र के आसपास गेगल थाना प्रभारी नंदूसिंह की अगुवाई में जाप्ता तैनात है।

उप निरीक्षक और प्लाटून कमांडर भर्ती का परिणाम जारी

अजमेर. राजस्थान लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को उप निरीक्षक/प्लाटून कमाण्डर भर्ती- 2016 का परिणाम जारी कर दिया। अभ्यर्थियों के साक्षात्कार बीती जुलाई और अगस्त में कराए गए थे। इससे चार साल बाद राजस्थान पुलिस को 511 उप निरीक्षक और प्लाटून कमांडर मिलेंगे। आयोग ने 8 जुलाई से उप निरीक्षक/प्लाटून कमांडर भर्ती-2016 के साक्षात्कार शुरू किए थे। यह साक्षात्कार 27 अगस्त को साक्षात्कार तक चले। चार दिन के गहन परीक्षण और तकनीकी जांच के बाद आयोग ने मंगलवार को परिणाम घोषित कर दिया।

सचिव शुभम चौधरी ने बताया कि राजस्थान पुलिस अधीनस्थ सेवा नियम 1989 के नियम 23 के अनुसार परिणाम जारी किया गया है। इसमें उप निरीक्षक पुलिस (एपी), उप निरीक्षक पुलिस (आरएएसी), उप निरीक्षक पुलिस (एमबीसी) और प्लाटून कमांडर (आरएसी) के अभ्यर्थी शामिल हैं। परिणाम राजस्थान हाईकोर्ट में लालकृष्ण वशिष्ठ, विकास चौधरी, मधुबाला तिवारी और नरपतदान चारण में पारित एसबी सिविल याचिका के अध्यधीन घोषित किया गया है। इसमें 129 अभ्यर्थियों का परिणाम हाईकोर्ट के आदेश और तीन अभ्यर्थियों का परिणाम प्रशासनिक कारणों से रोका गया है।

COVID-19 virus
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned