Ajmer News : चादर-फूल के बिना दरगाह में कर सकेंगे जियारत

Ajmer Dargah News : दरगाह में प्रवेश-निकास के अलग होंगे इंतजाम, साढ़े पांच महीने बाद खुलेगी दरगाह, 21 मार्च से बंद है आम जायरीन की आवाजाही, सुबह 5 से रात 10 बजे तक होगी जियारत, 3 से 4 बजे तक खिदमत के लिए बंद रहेगा आस्ताना शरीफ।

By: Yuglesh kumar Sharma

Published: 06 Sep 2020, 02:26 AM IST

अजमेर. सभी धार्मिक स्थलों के साथ सोमवार से विश्व प्रसिद्ध सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह (Dargah) को भी आम जायरीन के लिए खोल दिया जाएगा। गाइड लाइन के अनुसार दरगाह में व्यवस्थाओं को लेकर शनिवार को जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें तय किया गया है कि दरगाह के कुछ गेट खोले जाएंगे। इसमें जायरीन के प्रवेश और निकास की अलग-अलग द्वार से व्यवस्था रहेगी। जायरीन दरगाह में चादर और फूल पेश नहीं कर सकेंगे।

चार गेट खोले जा सकते हैं

दरगाह के फिलहाल चार गेट खोले जा सकते हैं। इस संबंध में शाम को दरगाह थाने में बैठक हुई। इसमें अतिरक्त पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र भाटी शामिल हुए। उन्होंने दरगाह में दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बैठक में अंजुमन की तरफ से चार गेट खोले जाने का प्रस्ताव रखा गया है। इस पर पुलिस प्रशासन विचार करेगा।

यूं रखा गया है प्रस्ताव

गेट नम्बर 1 (निजाम गेट) - आने व जाने के लिए

गेट नम्बर 4 (शर्की गेट) - आने के लिए

गेट नम्बर 10 (सोलहखम्बा) - आने के लिए

गेट नम्बर 5 (छतरीगेट) - केवल खादिमों के आने-जाने के लिए

यूं रहेगी आवाजाही - अंजुमन सचिव वाहिद हुसैन अंगारा शाह ने बताया कि निजाम गेट से आने वाले जायरीन बेगमी दालान की तरफ से, शर्की गेट व सोलहखम्बा गेट से आने वाले जायरीन सवाली वाले गेट से आस्ताना में प्रवेश करेंगे। आस्ताना में हाजिरी के बाद सभी जायरीन शाहजहानी मस्जिद, महफिलखाना, बड़ी देग, बुलंद दरवाजा होते हुए निजाम गेट से ही दरगाह से बाहर आएंगे। (फिलहाल यह प्रस्ताव पुलिस प्रशासन के समक्ष रखा गया है)

बैठक में यह हुआ तय

-दरगाह में जायरीन के प्रवेश में पर्याप्त अन्तराल रखा जाएगा। यह अन्तराल इतना होगा कि प्रवेशित व्यक्तियों के मध्य कम से कम 6 फीट की दूरी रह सके।

- प्रवेश के लिए फेस मास्क पहनना जरूरी होगा। प्रवेश-निकास के सभी पॉइंट पर थर्मल स्क्रीनिंग, हैंडवॉश तथा सेनेटाइजर की सुविधा उपलब्ध करानी होगी।

-सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के लिए निरन्तर एनाउन्समेन्ट किया जाएगा।

-धार्मिक आयोजन एवं जुलूसों पर प्रतिबंध रहेगा।

दरगाह कमेटी ने शुरू की तैयारियां

दरगाह में गाइड लाइन की पालना के लिए दरगाह कमेटी के स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। दरगाह कमेटी सदर अमीन पठान ने शनिवार शाम दरगाह परिसर में तैयारियों का जायजा लिया। कमेटी ने बिना अल्कोहल वाला सेनेटाइजर मंगवाया है। सोशल डिस्टेंस के लिए दरगाह परिसर में गोले बनाने का काम रविवार सुबह किया जाएगा।

यह रहे बैठक में मौजूद

कलक्ट्रेट में हुई बैठक में पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप, अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चन्द्र शर्मा, दरगाह कमेटी अध्यक्ष अमीन पठान, अंजुमन सैयदजादगान के अध्यक्ष मोइन हुसैन, सचिव सैयद वाहिद हुसैन, अंजुमन यादगार के अध्यक्ष सदाकत अली चिश्ती, सचिव एहतेशाम चिश्ती, दरगाह दीवान के प्रतिनिधी नसीरुद्दीन चिश्ती, दरगाह नाजिम डॉ. मोहम्मद आदिल आदि शामिल हुए।

कमेटी सदर ने की अपील

सोमवार से दरगाह खोले जाने के निर्णय का स्वागत करते हैं। इसके लिए केंद्र, राज्य सरकार और जिला प्रशासन का आभार। जायरीन से अपील है कि दरगाह जियारत के दौरान कोविड-19 नियमों की पालना करते हुए सेहत का पूरा ख्याल रखें।

-अमीन पठान, अध्यक्ष दरगाह कमेटी

Show More
Yuglesh kumar Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned