घर में घुसकर युवती का अपहरण, विरोध करने पर परिजन की लाठियों से पिटाई,फायरिंग कर फैलाई दहशत

किशनगढ़ में तीन युवकों ने दिनदहाड़े अंजाम दी वारदात, मुख्य आरोपी किशनगढ़ पुलिस थाने में कार्यरत हैड कांस्टेबल का बेटा है, युवती के माता-पिता पर किया जानलेवा हमला, वारदात के बाद क्षेत्र में फायरिंग से फैली सनसनी,जिले के पुलिस थानों पर कराई नाकाबंदी

By: suresh bharti

Updated: 06 Mar 2021, 01:50 AM IST

अजमेर/किशनगढ़. जिले के मार्बल नगरी किशनगढ़ शहर में शुक्रवार को तीन हथियारबंद युवकों ने दिनदहाड़े फायरिंग कर युवती का उसके घर में घुसकर अपहरण कर लिया। आरोपियों ने बीच-बचाव करने आए युवती के माता-पिता पर लाठियों से हमला कर उन्हें घायल कर दिया। वारदात के बाद किशनगढ़ वृत्त के सभी पुलिस थानों समेत जिलेभर में नाकाबंदी कर पुलिस ने युवती और आरोपियों की तलाश शुरू कर दी, लेकिन देर शाम तक कहीं सुराग नहीं लग सका।

मुख्य आरोपी हैड कांस्टेबल का पुत्र

मुख्य आरोपी किशनगढ़ में तैनात पुलिस हैड कांस्टेबल महावीर का पुत्र सुनील है। पुलिस के अनुसार शहर की निवासी महिला ने बताया कि दोपहर करीब 2.30 बजे वह खुद, पति एवं पुत्री घर पर थे। इसी दौरान घर के बाहर कार रुकने की आवाज आई। कुछ ही देर में तीन युवक गाली-गलौच करते हुए घर में घुस आए और भीतर से दरवाजा बंद कर लिया। इनमें से एक युवक ने बंदूक से फायर कर सभी को जान से मारने की धमकियां देनी शुरू कर दिया।

युवती को कार में बैठाकर ले भागे

एक आरोपी उसकी पुत्री का हाथ पकडक़र साथ चलने और शादी करने का दबाव डालने लगा। पुत्री को बचाने के लिए माता-पिता बीच-बचाव के लिए आए तो युवकों ने डंडों से मारपीट कर दोनों को घायल कर दिया। इससे दोनों निढाल होकर जमीन पर गिर गए। इसके बाद भी तीनों आरोपी लगातार मारपीट करते रहे। आरोपी युवक पुत्री को जबरन बाहर खड़ी कार में बैठाकर ले भागे। युवती का मां ने बताया कि आरोपी मारपीट करते हुए पुत्री को घर से बाहर ले गए। इस दौरान बीच-बचाव के लिए पड़ौसी भी आ गए। आरोपी ने उन पर भी बंदूक तानते हुए दूर रहने की धमकी दी। पुत्री को कार में बैठाकर तेजी से निकल गए।

शादी करने के लिए धमकी दी थी

युवती की मां ने बताया कि पुत्री इन दिनों घर पर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही है। उसके मोबाइल पर 5-6 महीने पहले भी एक युवक ने उससे शादी करने के लिए धमकी दी थी। मना करने पर अपहरण की चेतावनी दी। धमकी देने वाले शख्स सुनील चौधरी बताया है।

जल्द ही पकड़े जाएंगे आरोपी

मदनगंज थाने के सीआई मनीष सिंह के अनुसार प्रकरण में सुनील चौधरी समेत दो अन्य के खिलाफ अपहरण और जानलेवा हमला करने समेत अन्य आपराधिक धाराओं में नामजद मामला दर्ज कर लिया गया है। मुख्य आरोपित सुनील चौधरी ट्रेफिक पुलिस में कार्यरत हैड कांस्टेबल का पुत्र है। आरोपी की पूरी तरह से घेराबंदी कर ली गई है। जल्द आरोपित पकड़े जाएंगे।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned