#CORONAVIRUS : अजमेर को अपनों से ही खतरा

जरा सी लापरवाही पड़ सकती है भारी

106 संदिग्ध लोग भीलवाड़ा के बृजेश बांगड़ अस्पताल से प्रभावित
400 लोगों का सर्वे व स्क्रीनिंग जो परिवार के सदस्य संपर्क में आए

100 अन्य लोग भी भीलवाड़ा से अजमेर आए

Preeti Bhatt

25 Mar 2020, 12:57 PM IST

अजमेर. एशिया में सबसे बड़े कोरोना स्क्रीनिंग वाले शहर भीलवाड़ा अभी संकट की घड़ी से गुजर रहा है । भीलवाड़ा में संदिग्ध एवं पॉजिटिव की संख्या लगातार सामने अपने के बावजूद भीलवाड़ा के ही कई लोग अजमेर में अपने परिचित एवं परिवार के अन्य सदस्यों के घरों में शरण ले रहे हैं। मगर इनकी बिना स्क्रीनिंग के घरों में रखना और आपस में मिलना खतरा हो सकता है।

अजमेर एवं भीलवाड़ा की सरहद से सटे होने के साथ कोरोना का संकट उत्पन्न हो सकता है। भीलवाड़ा में भले ही सीमाएं सील कर दी गई हैं । आवाजाही के लिए रह्वोडवेज, ट्रेन बंद कर दी है मगर कई लोग परिवार सहित कार मोटरसाइकिलोंं के माध्यम से अजमेर पहुंच रहे हैं । अजमेर शहर में ऐसे कई लोगों को चिन्हित किया है जो अपने परिचितों एवं परिवार के अन्य सदस्यों के घर सुरक्षित रहने के लिए पहुंचे हैं।


पहले स्क्रीनिंग करवाएं
खासकर भीलवाड़ा से आने वाले अपने परिचितों व परिवार से जुड़े सदस्यों के अजमेर आने से पूर्व भीलवाड़ा में उनकी स्क्रीनिंग करवाएं । अजमेर पहुंचने के बाद चिकित्सा विभाग को सूचना देकर उनकी स्क्रीनिंग करवाएं। इनसे तब तक घुले मिले नहीं जब तक स्क्रीनिंग ना हो जाए।

#CORONAVIRUS : अजमेर को अपनों से ही खतरा

केस -1
भीलवाड़ा से एक परिवार अजमेर पहुंचा। इसकी भनक पड़ोसी को लगी तो कंट्रोल रूम में सूचना दी। इसके बाद सेटेलाइट अस्पताल में इन सभी को ले जाकर स्क्रीनिंग करवाई गई।

#CORONAVIRUS : अजमेर को अपनों से ही खतरा

केस-2
भीलवाड़ा निवासी शिव कुमार अपनी पत्नी अनीता को मोटरसाइकिल पर बैठाकर अजमेर पहुंच गया । पुलिस ने पूछताछ कर उन्हें सीएमएचओ कार्यालय पहुंचाया। उनकी स्क्रीनिंग की गई बाद में भीलवाड़ा वापस रवाना किया।

Corona virus
Preeti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned