सख्ती से बचने के लिए कुख्यात अपराधी लॉरेंस ने चला भूख हड़ताल का दाव!

-जेल प्रशासन ने ऑपरेशन फ्लश आउट 1 माह बढ़ाया

By: manish Singh

Published: 29 Dec 2020, 06:46 PM IST

अजमेर. प्रदेश की जेलों में मोबाइल और मादक पदार्थों की रोकथाम के लिए शुरू किया गया ऑपरेशन फ्लश आउट अब एक माह और चलेगा। 31 दिसम्बर को खत्म होने वाले अभियान की सीमा जेल महानिदेशक राजीव दासोत ने 31 जनवरी तक बढ़ा दी है। इसी अभियान में कुख्यात लॉरेंस विश्नोई को अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में स्थानांतरित किया गया था। यहां उसने सुरक्षा घेरा देख जेल प्रशासन के खिलाफ ही भूख हड़ताल शुरू कर दी है। हालांकि उसने जेल प्रशासन को दिए पत्र में किसान आंदोलन के पक्ष में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू करने की बात कही है।

लॉरेंस को भरतपुर की सेवर जेल से 21 नवम्बर को अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में स्थानांतरित किया गया। यहां पहुंचते ही उसके कब्जे से मोबाइल फोन व अन्य वस्तुएं मिली थीं। जेल की सख्ती देख उसके गुर्गों ने जेल अधीक्षक प्रीति चौधरी को भी धमकाया। जेल अधीक्षक को मिली धमकी पर सिविल लाइंस थाने में एफआइआर दर्ज कराई गई। अब कोई रास्ता नहीं बचा तो उसने जेल में भूख हड़ताल का दाव खेल दिया। जेल प्रशासन को लॉरेंस के भूख हड़ताल की सूचना मिली तो पहले समझाइश का प्रयास किया गया, फिर उसका मेडिकल टेस्ट करवाया गया। इसकी रिपोर्ट जेल डीजी को भेजी गई है।

READ MORE-वो धमकी देते रहे...हम सबक सिखाते रहे!
105 जेलों मेंअब तक 2284 बार ली है तलाशी

जेल विभाग ने सख्ती जारी रखते हुए 31 दिसम्बर को खत्म हो रहे अभियान को 31 जनवरी तक बढ़ा दिया। जेल विभाग ने अभियान ऑपरेशन फ्लश आउट 21 नवम्बर को शुरू किया था। इसमें प्रदेश की केन्द्रीय, जिला व सब जेलों में तलाशी अभियान चलाया गया। प्रदेश की 105 जेलों में 2284 बार तलाशी ली गई। इसमें न केवल बंदियों के पास अवैध सामग्री मिली, बल्कि जेलकर्मियों की मिलीभगत भी सामने आई। ऐसे कर्मचारयों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की गई। यहां तक की दो प्रहरी अपनी नौकरी से हाथ धौ बैठे।

अभियान में ये हुई बरामदगी
49 मोबाइल

28 सिम
16 चार्जर

12 ईयरफोन
5 डेटा केबल

40 ग्राम अफीम
40 ग्राम चरस

ये हुई कार्रवाई

अलग-अलग थानों में 17 एफआइआर दर्ज
22 कुख्यात बंदियों की जेल बदली (लॉरेंस विश्नोई को अजमेर के हाईसिक्योरिटी जेल भेजा)

मिलीभगत पर कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई

2 सुरक्षा प्रहरी सोहन लाल व रमेश सेवा से बर्खास्त
15 कर्मचारी निलम्बित

26 के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई
14 कर्मचारियों के तबादले

अच्छा कार्य करने वाले 30 कर्मचारियों को रिवॉर्ड

इनका कहना है...
लॉरेन्स विश्नोई ने किसान आंदोलन के पक्ष में भूख हड़तान का पत्र दिया है। उससे समझाइश की जा रही है। स्वास्थ्य की जांच करवाई गई है।

-प्रीति चौधरी, जेल अधीक्षक अजमेर

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned