‘गणपति बप्पा मोरिया, अगले बरस तूं जल्दी आना’ की धुन पर थिरकते और नाचते-गाते शहरवासियों ने अनंत चतुर्दशी पर गुरुवार को आजाद पार्क में स्थित कुंड में गणेशजी की मूर्ति विसर्जित की। दूसरे दिन शुक्रवार को जब पत्रिका फोटोजर्नलिस्ट ने उक्त कुंड का जायजा लिया तो कई मूर्तियां टूटी-फूटी हालत में पानी में ऊपर तैरती नजर आई।
मूर्तियों की यह बेकद्री प्लास्टर ऑफ पेरिस के इस्तेमाल से हुई है। पीओपी की मूर्तियां पूरी तरह से पिघल नहीं पाई और कुंड में बेकद्री (Load Ganesha Statue Dishonoured In Pond) का शिकार हो गई।

आनासागर में भी बेकद्री .. अजमेर की आनासागर(aanasagar) झील मूर्ति विसर्जन रोक के बावजूद भी कई लोगों ने गुरुवार को चोरी चुपके मूर्ति विसर्जन किया पर शुक्रवार को जब जायजा लिया गया तो वहां पर भी मूर्तियों की बेकद्री होती नजर आई ।

READ MORE :अजमेर जिले में अनंत चतुर्दशी पर जैन मंदिरों में पंचामृत से अभिषेक,अष्टद्रव्यों से पूजा

READ MORE:Anant Chaturdashi: गणपति बप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आना

READ MORE:सिक्किम में तैनात था बीएसएफ का जवान,घर छुट्टी पर आया तो हो गई हत्या

READ MORE:Proud daughters: बेटों से कहीं कम नहीं हैं अजमेर की बेटियां

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned