scriptऐसा क्या हुआ… प्रेमी ने नाबालिग संग चुनी मौत की राह, युवक की मौत | LOVE The minor chose the path of death instead of love, her lover died | Patrika News
अजमेर

ऐसा क्या हुआ… प्रेमी ने नाबालिग संग चुनी मौत की राह, युवक की मौत

प्रेम कहानी में बाधा बना संगौत्र : जेेएलएन अस्पताल पहुंचे युवक को चिकित्सकों ने किया मृत घोषित, किशोरी को करवाया भर्ती

अजमेरJul 08, 2024 / 03:14 am

manish Singh

ऐसा क्या हुआ... प्रेमी ने नाबालिग संग चुनी मौत की राह, युवक की मौत

ऐसा क्या हुआ… प्रेमी ने नाबालिग संग चुनी मौत की राह, युवक की मौत

अजमेर. पढ़ने लिखने की उम्र में साथ जीने-मरने की कसम खाने वाले युगल को जिंदगी का तो साथ नसीब नहीं हुआ लेकिन उनको मौत ने भी जुदाकर दिया। मामला ब्यावर जिले के टाटगढ़ थाना क्षेत्र का है। अरावली की दुर्गम पहाडि़यों में बसे दो पड़ौसी गांव के युवक का नाबालिग छात्रा से इश्क हो गया। प्रेम परवान तो चढ़ा लेकिन अंजाम तक पहुंचने से पहले सगौत्र की फांस दिल में चुभ गई। आखिर समाज, रीति रिवाज को पीछे छोड़ उन्होंने साथ में मरने का फैसला कर विषाक्त गटक लिया। किशोरी के परिजन ने उन्हें अस्पताल भी पहुंचाया लेकिन युवक ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया जबकि किशोरी की हालत स्थिर बनी हुई है।

टाटगढ़ थाना क्षेत्र के गाफा गांव के निरंजन सिंह (18) पुत्र राजेन्द्र सिंह रावत को किशोरी के परिजन रविवार सुबह ब्यावर के राजकीय अमृतकौर अस्पताल से जेएलएन अस्पताल लेकर पहुंचने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पड़ताल में निरंजन द्वारा शनिवार रात जहर गटकना पता चला। सूचना पर पहुंची टाटगढ़ थाना पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मोर्चरी में रखाया। मृतक के पिता राजेन्द्र सिंह रावत के बड़ौदा से आने के बाद शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

किशोरी के घर के पास मिले अचेत

पुलिस की पड़ताल में आया कि निरंजन शनिवार रात बाइक लेकर पड़ोसी गांव में नाबालिग प्रेमिका के घर पहुंच गया। अपने छोटे भाई-बहन के पास सो रही किशोरी भी उससे मिलने बाहर आ गई। जहां से दोनों ने 500 मीटर दूर खलिहान पर पहुंच कर विषाक्त सेवन कर लिया।

हम तो मरने वाले हैं. . .

किशोरी की तलाश में जुटे परिजन को रात साढ़े 11 बजे निरंजन व नाबालिग पुत्री उल्टी करते मिले। किशोरी के परिजन ने बेटी को थप्पड़ मारना चाहा तो निरंजन ने कहा कि ‘आप लोग मारना चाहते हो तो मार लो…, हम तो वैसे भी मरने वाले हैं’। निरंजन ने उन्हें जहर खाना बताया।

परिजन ने पहुंचाया अस्पताल

किशोरी के परिजन ने दोनों को पहले भीम फिर ब्यावर के राजकीय अमृतकौर अस्पताल पहुंचाया। किशोरी ने चिकित्सकों को बताया कि उससे विषाक्त गटका नहीं गया। जबकि निरंजन गटक चुका था। उसकी तबीयत बिगड़ने पर उसे अजमेर रैफर कर दिया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इधर रविवार दोपहर किशोरी की तबीयत फिर से बिगड़ने पर उसे जवाहरलाल नेहरू अस्पताल के चिल्ड्रन वार्ड में भर्ती कराया गया।

…सगौत्र की थी अड़चन

पड़ताल में आया कि प्रेमी युगल सगौत्री थे। करीब चार माह पहले उनके प्रेम प्रसंग का घर वालों को पता भी चल गया था। जिसे दोनों ने प्रेम प्रसंग में अड़चन देखते हुए साथ मरने के लिए विषाक्त का सेवन कर लिया। टॉटगढ़ थाना पुलिस मामले की गहनता से पड़ताल में जुटी है।

Hindi News/ Ajmer / ऐसा क्या हुआ… प्रेमी ने नाबालिग संग चुनी मौत की राह, युवक की मौत

ट्रेंडिंग वीडियो