लग्जरी बस सीज : क्षमता से अधिक सवार थे यात्री, किसी ने मास्क नहीं लगाया तो डिस्टेंस की भी अनदेखी

सूरत से डेगाना जा रही थी निजी बस, जिले के कई नाकों से गुजर कर पुष्कर तक आ पहुंची,पुष्कर के उपखंड अधिकारी ने कार्रवाई कर वसूला जुर्माना,यातायात विभाग को सौंपी बस

By: suresh bharti

Published: 03 May 2021, 12:05 AM IST

अजमेर/पुष्कर. एक ओर कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक बनी हुई है। संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है तो मृतकों का सिलसिला थम नहीं रहा। अस्पतालों में वार्ड भरे पड़े हैं। बेड खाली नहीं है। राज्य सरकार ने संक्रमण रोकने के लिए गाइडलाइन जारी की है। इसमें यात्री बसों में क्षमता से पचास फीसदी कम सवारियां बैठाने के निर्देश हैं। पुष्कर के उपखंड अधिकारी दिलीप सिंह राठौड़ ने रविवार को भटबाय गणेश मंदिर रोड पर बाईपास मार्ग से पुष्कर की ओर आ रही सूरत से डेगाना मार्ग पर चलने वाली सवारियों से खचाखच भरी लग्जरी बस सीज की है। इस बस को यातायात विभाग के सुपुर्द कर दिया।

चालक से जुर्माना वसूला

निरीक्षण के दौरान बस में कोविड गाइड लाइन की अवहेलना कर क्षमता से 40 सवारी अधिक बैठी मिलीं। साथ ही अनेक यात्री बिना मास्क के भी मिले। सवारियों को बस से उतारकर तीन अलग अलग वाहनों में उनके गन्तव्य तक भेजने की व्यवस्था कर चालक से जुर्माना वसूला गया।

बस में 76 यात्री मिले

राठौड़ ने बताया कि रविवार प्रात: कोविड गाइड लाइन की पालना की चैकिंग के दौरान बांगड़ तिराहे पर दूर संचार कार्यालय के पास भटबाय रोड पर प्रात: सूरत से डेगाना जा रही लग्जरी बस को रोककर चैकिंग की गई। इस दौरान बस में 76 सवारियां बैठी थीं। जो गाइडलाइन की अवहेलना कर क्षमता से 40 अधिक थीं। इस पर बस सीज कर यातायात विभाग को कार्रवाई के लिए सुपुर्द कर दी गर्ई।

नाकाबंदी पर उठे सवाल

गौरतलब यह कि जिले में सघन नाकाबंदी के जिला पुलिस कप्तान के निर्देशों के बीच सवारियों से खचाखच भरी बस सूरत से जिला सरहद पार करती हुई पुष्कर तक पहुंच गई। इस बीच रास्ते में तैनात पुलिस, यातायात व अन्य अधिकारियों ने इसको चैक तक नहीं किया।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned