बेरहम डॉक्टर को नहीं आई शर्म प्रसूता के गाल पर इसलिए जड़ दिया थप्पड़, दर्द में तड़प रही प्रसुता का हुआ बुरा हाल

Sonam Ranawat

Publish: Jul, 14 2018 12:34:25 PM (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
बेरहम डॉक्टर को नहीं आई शर्म प्रसूता के गाल पर इसलिए जड़ दिया थप्पड़, दर्द में तड़प रही प्रसुता का हुआ बुरा हाल

राजकीय जनाना अस्पताल में विगत दिनों गुस्साए डॉक्टर ने इस बात पर आक्रोशित होकर प्रसूता को थप्पड़ मार दिया।

अजमेर. राजकीय जनाना अस्पताल में विगत दिनों एक वार्ड में बैड बदलने की बात को लेकर आक्रोशित एक पुरुष चिकित्सक की ओर से प्रसूता को थप्पड़ मारने के बावजूद अस्पताल प्रशासन व प्रशासन ने आज तक कार्रवाई नहीं की है।

 

कोटड़ा क्षेत्र निवासी श्रमिक रामेश्वरी (रामेश्वर) ने जिला कलक्टर के नाम लिखे ज्ञापन में बताया कि उसकी पत्नी लीलावती को प्रसव के लिए राजकीय जनाना अस्पताल में भर्ती कराया, जहां 20 जून को उसका प्रसव हुआ। इसके बाद वार्ड में शिफ्ट कर दिया। इसके दो दिन बाद 22 जून को राउंड पर चिकित्सक ने उसका बैड बदलने के स्टाफ को निर्देश दिए। बैड पर नवजात बच्ची के साथ प्रसूता अकेली थी, जिस बैड पर उसे शिफ्ट करना था वहां पहले से कोई अन्य प्रसूता थी।

 

जगह के अभाव में वह पुन: अपने पूर्व बैड पर नवजात को लेटाकर खड़ी थी। इसी दौरान एक पुरुष चिकित्सक ने उसे डांटा और थप्पड़ मार दिया। प्रसूता ने मोबाइल से बाहर बैठे पति को सूचना दी। पति रामेश्वरी ने वहां पहुंचकर संबंधित चिकित्सक से बेवजह प्रसूता को थप्पड़ मारने का कारण पूछा। उसने बताया कि नवजात को जन्म दिए दो दिन हुए हैं प्रसूता को कान के पास थप्पड मारने से वह दर्द से कराह उठी।

 

करीब एक पखवाड़े के बावजूद उसके कान में दर्द है। पीडि़ता के पति ने अस्पताल प्रशासन को शिकायत की तो वहां महिला चिकित्सकों व स्टाफ ने समझाबुझा कर शांत करने की कोशिश की, जबकि संबंधित चिकित्सक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। इससे व्यथित पीडि़ता के पति ने जिला कलक्टर आरती डोगरा, पुलिस अधीक्षक को भी न्याय की गुहार लगाई है।

Prev Page 1 of 2 Next

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned