तीन साल की मासूम बच्ची पर नहीं आया उस दरिन्दे को तरस, बच्ची के साथ पार की हैवानियत की सारी हदें

वो मासूम बच्ची जो शायद अभी टीक से बोल भी नहीं सकती थी, उस दरिन्दे को उस बच्ची पर भी तरस नहीं आया और बच्ची के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर लहुलुहान

By: सोनम

Published: 22 Aug 2017, 02:16 PM IST

अजमेर/ ब्यावर. वो मासूम बच्ची जो शायद अभी टीक से बोल भी नहीं सकती थी, उस दरिन्दे को उस बच्ची पर भी तरस नहीं आया और बच्ची के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर लहुलुहान हालत में घर छोड़ गया । जवाजा थाना क्षेत्र में सोमवार को मानवीय संवेदनाओं को तार-तार कर देने वाली घटना पेश आई।

 

२६ साल के एक युवक ने तीन साल की मासूम को हवस का शिकार बना डाला। दो घंटे से लापता बच्ची परिजन को लहूलुहान हालत में मिली। उसे देर रात ब्यावर के अमृतकौर अस्पताल से प्राथमिक उपचार के बाद अजमेर रैफर कर दिया गया।

थानाप्रभारी रामस्वरूप चौधरी ने बताया कि पीडि़त बालिका के पिता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि परिवार के सदस्य शाम ५ बजे खेत में काम करके लौटे तो उसकी पुत्री घर पर नहीं मिली। आसपास तलाश किया लेकिन उसका सुराग नहीं लगा। काफी मशक्त के बाद रात ७ बजे मिली बच्ची लहूलुहान व बदहवास हालत में मिली। उसकी मां ने उसे इस हाल में देखा तो पूछताछ की।

 

पीडि़ता ने दूर के रिश्तेदार का नाम बताया। बालिका की हालत देख परिजन भी सन्न रह गए। बच्ची की हालत बिगड़ता देख उसे ब्यावर के राजकीय अमृत कौर अस्पताल पहुंचाया। सूचना पर जवाजा थाना पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने बालिका के उपचार व मेडिकल करवाया। पुलिस ने परिजन की शिकायत पर आरोपित युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस आरोपित की तलाश शुरू कर दी।

 


देर रात पहुंचाया अस्पताल घटना के बाद काफी देर तक परिजन भी सन्न रह गए। उन्होंने बच्ची को अस्पताल ले जाने और पुलिस कार्रवाई को लेकर असमंजस की स्थिति में फंसे रहे। जब बच्ची की तबीयत बिगडऩे लगी तो परिजन ने आरोपित की करतूत रिश्तेदारों को बताई। रिश्तेदार पहले बच्ची के इलाज की बात कहकर ब्यावर रवाना हुए। रिश्तेदार पहले बच्ची के इलाज की बात कहकर ब्यावर रवाना हुए।

सोनम Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned