scriptMany works done for the betterment of women | महिलाओं की बेहतरी के किए कई काम | Patrika News

महिलाओं की बेहतरी के किए कई काम

-महिला अधिकारिता विभाग ने क्रियान्वित की कई योजनाएं

अजमेर

Published: December 07, 2021 07:28:40 pm

अजमेर. राज्य सरकार के पिछले 3 साल के कार्यकाल में महिला अधिकारिता विभाग द्वारा महिलाओं के उन्नयन के अनवरत प्रयास कर उन्हें योजनाओं से लाभान्वित किया गया।

विभाग के उपनिदेशक राजेन्द्र कुमार चौधरी ने बताया कि विभाग द्वारा महिलाओं को विकास की मुख्य धारा से जोडऩे के लिए कई कार्य किए जा रहे हैं। पिछले तीन वर्षों में 50 साथिन का चयन किया गया है। प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान भी 32 साथिन चयनित की गईं।
सामूहिक विवाह पर 87.68 लाख का अनुदान
ajmer
ajmer
तीन वर्षों में 24 समाजों द्वारा विभिन्न अवसरों पर सामूहिक विवाह आयोजित करवाए जाने पर 532 जोड़ों को सरकारी स्तर पर 87 लाख 68 हजार रूपए का अनुदान दिया जा चुका है।

स्वयं सहायता समूह
स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा निर्मित उत्पादों के प्रदर्शन एवं विपणन के लिए विभाग द्वारा जिले में संभाग स्तरीय अमृता हाट का आयोजन किया गया। इसमें प्रदेश के विभिन्न अंचलों से आए समूहों की महिलाओं ने 21.68 लाख रूपए की सामग्री का विपणन किय।
1597 समूहों को अमृता सोसायटी से जोड़ा गया। धन लक्ष्मी महिला समृद्धि केन्द्र स्थापित किए गए हैं। जिले में ब्लॉंक-किशनगढ़ ग्रामीण (सिलोरा), केकड़ी एवं अरांई में भवन बनकर तैयार हो गए हैं।

महिला सुरक्षा
महिला सुरक्षा एवं सलाह केन्द्र पर प्राप्त 1269 प्रकरण में से 1251 का निस्तारण किया गया। वन स्टॉप सेन्टर सखी केन्द्र पर हिंसा से प्रभावित महिलाओं को चिकित्सकीय, पुलिस, विधिक परामर्श सेवाएं एवं अस्थाई आश्रय संबंधी सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। केन्द्र को मिले 835 प्रकरण में से 829 का निस्तारण किया जा चुका है। घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण अधिनियम के माध्यम से 108 प्रकरणों में राहत प्रदान की गई।
बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ में किया भुगतान

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना में 54 विद्यालयों को 8 लाख 10 हजार रूपए एवं 52 छात्राओं को 3 लाख 10 हजार रूपए की राशि वितरित की गई। महिला शक्ति प्रशिक्षण एवं कौशल संवद्र्धन योजना से 7 हजार 878 बालिकाओं एवं महिलाओं को जोड़ते हुए प्रशिक्षण संस्थान को 1करोड 6 लाख 35 हजार का भुगतान किया गया। फाइनेसिंयल एकाउंटिंग में 638 महिलाओं एवं बालिकाओं को लाभान्वित कर प्रशिक्षण संस्थान को 22 लाख 96 हजार का भुगतान किया गया। शिक्षा सेतु योजना के द्वारा 4 हजार 909 छात्राओं के आवेदन राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल के भरवाए गए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.