MDSU: सुमन शर्मा के बेटे पर मेहरबानी, फिर गए प्रतिनियुक्ति पर

raktim tiwari

Updated: 16 Nov 2019, 03:10:00 PM (IST)

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. पूर्व राज्य महिला आयोग (chairperson womens commission) अध्यक्ष के पुत्र पर सियासी रसूखात से फिर ‘मेहरबानी ’ हो गई। वेमहर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय से प्रतिनियुक्ति पर राजभवन पहुंच गए हैं। महज चार साल की नौकरी में दोबारा प्रतिनियुक्ति (deputation) पर जाने को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। ऐसा तब है जबकि विश्वविद्यालय में अफसरों की कमी है।

Read More: Theft in ajmer : मकान-दुकान के बाद अब चोरों की मंदिर पर नजर

राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा के पुत्र प्रतीक शर्मा साल 2015 में महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय (mdsu ajmer) में सहायक कुलसचिव (assistant registrar) पद पर नियुक्त हुए थी। तत्कालीन कुलपति प्रो. कैलाश सोडाणी के कार्यकाल में नियुक्ति के महज तीन-चार महीने में ही उन्हें प्रतिनियुक्ति पर जयपुर केजगदगुरु रामानंदाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय में भेज दिया गया। जबकि उनका दो साल का प्रॉबेशन काल भी पूरा नहीं हुआ था।

Read More: मुंह के कैंसर की प्राथमिक जांच के लिए अजमेर में तैयार होगी डिवाइस

यूं बुलाया था प्रो. श्रीमाली ने
अधिकारियों की कमी के चलते पिछले साल कुलपति रहे प्रो. विजय श्रीमाली (vijay shrimali) ने सहायक कुलसचिव शर्मा को वापस बुलाने की योजना बनाई। पिछले साल 30 जून को प्रबंध मंडल की बैठक में शर्मा का मुद्दा रखा। उन्होंने जगदगुरु रामानंदाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय (sanskrit university) के कुलपति, राज्य सरकार और राजभवन पत्र भेजकर 15 दिन में पदभार नहीं संभालने पर नियमानुसार कार्रवाई की चेतावनी दी। इसके चलते शर्मा को वापस आना पड़ा।

Read More: cbse: स्कूल के लिए अंतिम अवसर, करें परीक्षा फार्म में संशोधन

अब पहुंच गए राजभवन

प्रशासन ने शर्मा को संस्थान विभाग का जिम्मा दिया था। इस दौरान उन्हें विधिक मामलों में हाईकोर्ट जाने का कामकाज भी मिल गया। बीती जुलाई को उन्होंने फिर प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए राजभवन संपर्क किया। वहां से ई-मेल विश्वविद्यालय को भेजा गया। लेकिन कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह के (prof r.p. singh) कामकाज पर लगी रोक के चलते फैसला नहीं हो सका था। हाल में शर्मा को रिलीव कर राजभवन भेज दिया गया।

Read More: नगर निकाय चुनाव : किसी प्रत्याशी के कोई संतान नहीं , तो किसी के हैं आठ आठ बच्चे
सरकार और राजभवन से शर्मा को प्रतिनियुक्ति पर भेजने के आदेश आए थे। हमने उसकी अनुपालना की है।

प्रो. आर. पी. सिंह, कुलपति मदस विश्वविद्यालय

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned