Meeting: कार्यकर्ता बनाएं सेवादल को मजबूत, पार्टी खुद बनाएगी नेता

कई कार्यकर्ता बिना मेहनत के पंचायत, वार्ड पंच, पार्षद, विधायक, सांसद के टिकट का सपना देखते हैं। सेवादल जनहित और कांग्रेस के लिए तैयार होने का माध्यम है। वास्तविक कार्यकर्ता वही है, जो अन्य लोगों को आगे बढ़ाता है।

By: raktim tiwari

Updated: 16 Dec 2020, 10:01 AM IST

अजमेर.

कार्यकर्ताओं को ईमानदारी सेवादल में कामकाज करना चाहिए। संगठन के प्रति सकारात्मक सोच और वफादारी देखकर पार्टी आपको खुद नेता बनाएगी। यह विचार अखिल भारतीय कांग्रेस सेवा दल की 11वीं विस्तारित कार्यकारिणी की बैठक में सामने आए।

कच्छावा द्रोणिका रिसोर्ट ब्यावर रोड पर पर अखिल भारतीय कांग्रेस सेवा दल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू हुई। राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल जी देसाई ने ध्वज वंदना की। उन्होंने कहा कि कई कार्यकर्ता बिना मेहनत के पंचायत, वार्ड पंच, पार्षद, विधायक, सांसद के टिकट का सपना देखते हैं। सेवादल जनहित और कांग्रेस के लिए तैयार होने का माध्यम है। वास्तविक कार्यकर्ता वही है, जो अन्य लोगों को आगे बढ़ाता है। अहमद पटेल इसके सशक्त उदाहरण हैं।
सेवादल राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष हेम सिंह शेखावत ने कहा कि अच्छे सैनिक ही श्रेष्ठ सेनानायक बनते हैं। सेवादल ने समयानुकूल कौशल, ज्ञान का दायरा बढ़ाने की योजा बनाई है। कार्यकर्ताओं को केंद्र, राज्य, नगर निकाय, पंचायत चुनावों-जनहित के मुद्दों को आगे बढ़ाने के लिए जुटना चाहिए।

सीएम करेंगे वीडियो कॉन्फे्रंसिंग
सीएम अशोक गहलोत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से चर्चा करेंगे। पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष देसाई ने सेवादल संस्थापक डॉ. एनएस हार्डी कर के चित्र पर फूल व सूत की माला अर्पित की। बैठक में राष्ट्रीय महासचिव चंद्रप्रकाश वाजपेयी, राष्ट्रीय संयुक्त सचिव एवं राजस्थान प्रभारी प्रकाश चंद, बलराम भदोरिया, सत्येंद्र यादव ,प्रमोद पांडेय ,अनुराग शर्मा ,आशुतोष किरण मोरे एवं दीप बयाना ने भी संबोधित किया। शहर कांग्रेस सेवादल संगठक देशराज मेहरा और अन्य मौजूद रहे।

विभिन्न सत्रों में हुई चर्चा
प्रथम सत्र में सेवादल संगठन निर्माण पर चर्चा हुई। द्वितीय सत्र में जनसेवा व जनसेवा समिति निर्माण पर मंथन हुआ। इसमें जन सेवा समितियों के निर्माण पर जोर दिया गया। तृतीय सत्र में राष्ट्रीय महासचिव एवं राजस्थान के प्रभारी लालजी मिश्रा ने सेवादल के प्रशिक्षण पर जोर दिया। चतुर्थ सत्र में राष्ट्रीय अध्यक्ष देसाई ने नेतृत्व निर्माण और राष्ट्र निर्माण पर जोर दिया। पांचवें सत्र में केंद्र सरकार के किसान-मजदूर विरोधी नीतियों, आर्थिक संकट पर चर्चा की गई।

Congress
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned