भाजपा की अन्र्तकलह से नहीं बन पाए सदस्य

अब तक नहीं हो पाई सदस्यों की नियुक्ति, आपसी खींचतान या फिर चुनाव का इंतजार, नगर निगम चुनाव नजदीक आने के बावजूद संगठन नहीं हुआ सक्रिय

By: CP

Published: 17 Jun 2020, 10:26 PM IST

अजमेर. भारतीय जनता पार्टी शहर जिला कार्यकारिणी में अभी तक सदस्य गायब हैं। भाजपा की आपसी खींचतान एवं कलह के चलते अभी तक सदस्यों का ना तो मनोननय नहीं हो पाया है। एक ओर संगठन में भागीदीरी निभाने वाले वरिष्ठ कार्यकर्ताओं एवं युवाओं को इंतजार है वहीं आला नेताओं को इससे इत्तेफाक नहीं है, जबकि नगर निगम चुनाव नजदीक है। अजमेर शहर में नगर निगम के चुनाव सितम्बर माह में प्रस्तावित है। ऐसे में भाजपा की तैयारियों का अंदाजा लगाया जा सकता है कि संगठन किस स्तर तक तैयार है। भाजपा शहर जिला कार्यकारिणी का दायरा अजमेर के दोनों विधानसभा क्षेत्रों के अलावा किशनगढ़ तक बढ़ गया है। संगठन में जगह पाने के लिए अजमेर उत्तर, अजमेर दक्षिण के साथ किशनगढ़ शहर के भाजपाइयों की ओर से भी प्रयास किए गए हैं। बताया जा रहा है कि विधायकों की ओर से अपने क्षेत्रों के सदस्यों के नामों की सूची आलाकमान को सौंप दी है। मगर कोरोना और लॉकडाउन के चलते कार्यकारिणी में सदस्यों की नियुक्ति नहीं हो पाई है।

उपाध्यक्ष, महामंत्री एवं मंत्री हो चुके घोषित

भाजपा की शहर कार्यकारिणी में पूर्व में ही उपाध्यक्ष, महामंत्री एवं मंत्रियों के नाम की घोषणा कर दी गई। कार्यकारिणी में 8 उपाध्यक्ष, 3 महामंत्री एवं 8 मंत्री बनाए गए हैं।

कार्यकारिणी में 50 सदस्य होंगे शामिल

भाजपा नेताओं की मानें तो भाजपा शहर कार्यकारिणी में करीब 50 नए सदस्य बनाए जाएंगे। ऐसे में भाजपा शहर जिलाध्यक्ष के अलावा अजमेर के दोनों विधायक एवं किशनगढ़ में भाजपा के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे नेता की अनुशंसा पर भी सदस्यों की ताजपोशी की जाएगी।

इनका कहना है

भाजपा शहर कार्यकारिणी में पदाधिकारियों की घोषणा पूर्व में प्रदेश संगठन की ओर से की जा चुकी है। कोरोना एवं लॉकडाउन के चलते सदस्यों की नियुक्ति नहीं हो पाई है। सूची बनाकर प्रदेश अध्यक्ष को पूर्व में भेजी जा चुकी है। विधायकों से भी नाम मांगे गए थे।

डॉ. प्रियशील हाड़ा, अध्यक्ष शहर भाजपा

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned