scriptmeters will have to be changed in 11 districts by running a campaign | अभियान चला कर 11 जिलों मेें बदलने होंगे बंद एंव खराब मीटर | Patrika News

अभियान चला कर 11 जिलों मेें बदलने होंगे बंद एंव खराब मीटर

सिंगल फेज और थ्री फेज नॉन-एजी डिफेक्टिव मीटर्स का मामला

अजमेर

Updated: April 01, 2022 08:49:10 pm

अजमेर. अजमेर विद्युत वितरण निगम ने बंद एंव खराब पड़े मीटरों को अभियान चला कर बदलने के निर्देश दिए है। उपखण्डों में पर्याप्त संख्या में मीटर उपलब्ध होने के बावजूद उपखण्डों में बड़ी संख्या में मीटर खराब पड़े हैं। सिंगल फेज (शहरी) खराब मीटर (सभी खराब मीटर), सिंगल फेज (ग्रामीण) खराब मीटर (06 माह से अधिक), थ्री फेज (शहरी) खराब मीटर (सभी खराब मीटर) व बंद मीटरों को 15 अप्रैल 2022 तक ड्राइव मोड पर बदलना होगा। इससे पूर्व यह मामला निगम के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में खराब मीटरों को बदलने का मामला उठ चुका है।
ajmer
ajmer
साइट पर ही जांचने होंगे मीटर

अजमेर,भीलवाड़ा, नागौर, सीकर, झुंझुनूं, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, राजसमंद, बांसवाड़ा, डूंगरपुर तथा प्रतापगढ़ के अधीक्षण अभियंताओं को निर्देश दिए गए हैं कि खराब मीटरों की ऑनसाइट जांच की व्यवस्था करें । यदि यह ठीक पाया जाता है तो इसे सिस्टम में फीड किया जाए, शेष वास्तविक खराब मीटरों को 15 अप्रैल 2022 तक बदला जाए।
मिनी लैब में करवाना होगा परीक्षण

साइट से हटाए गए सभी खराब मीटरों को उपखण्ड स्तर पर स्थापित मिनी लैब में प्राथमिक रूप से परीक्षण करवाना होगा और रीडिंग एआरओ को उपलब्ध कराई जाएगी। इससे संबंधित उपभोक्ताओं के खाते में बिल भेजा जाएगा।
निगम को मंहगे पड़ते हैं मीटर

निगम के अनुसार मीटर भारी लागत वहन करते हैं। सभी एआरओ को मीटर को बिलिंग सिस्टम में दोषपूर्ण के रूप में फीड करने से पहले मीटर की स्थिति की गहन जांच की जाए। किसी भी मीटर को काम करते हुए पाया जाना साइट पर बदलने की जरूरत नहीं है, लेकिन ऐसे काम करने वाले मीटरों की स्थिति को जेईएन की साइट रिपोर्ट के साथ बिलिंग सिस्टम में ओके के रूप में ठीक किया जा सकता है। इससे न केवल लागत बचेगी बल्कि बिलिंग की गुणवत्ता में भी सुधार होगा।
इनको करनी होगी निर्देशों की पालना

अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक एन.एस.निर्वाण) ने निगम के सभी जोन के मुख्य अभियंता, सभी वरिष्ठ लेखाधिकारी, सहायक अभियंता, सहायक लेखाधिकारी, एआरओ को मीटर बदलने के निर्देश दिए हैं। बदले गए मीटरों की रिपोर्ट प्रति सप्ताह मंगलवार को निगम मुख्यालय को भेजनी होगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Gyanvapi Survey: सर्वे के दौरान कुएं में मिला शिवलिंग, हिन्दू पक्ष के वकील ने किया दावाअसम में बाढ़ से 7 जिलों के लगभग 57 हजार लोग प्रभावित, बचाव कार्य में जुटी इंडियन एयरफोर्सराजस्थान में तपिश और लू बनी ‘संजीवनी’, हुआ ये बड़ा फायदाCNG Price Hike: एक साल में CNG में 69.60% की बढ़ोतरी, जानें आपके शहर की लेटेस्ट कीमतहवाई सफर होगा महंगा, Jet Fule की कीमतें 5% बढ़ी, विश्व स्तर पर बढ़ती कीमतों का असरसोनिया गांधी का ये अंदाज पंसद आया, वे मुस्कुराई तो सभी कांग्रेसी भी मुस्कुराए, देखे पूरा वीडियो80 वर्षीय मशहूर चित्रकार ने नाबालिग से 7 साल तक किया 'डिजिटल रेप', जानें क्या होता है Digital RapeLunar Eclipse 2022: सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण हो गया है शुरू, क्यों कहा जा रहा 'ब्लड मून', जानिए भारत से कैसे और कहां दिखेगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.