Murder: किशनगढ़ में खूनी खेल, सिनोदिया हत्याकांड के गवाह का दिनदहाड़े मर्डर

पुलिस नाकाबंदी कर हत्यारों की तलाश में जुटी है। मदनगंज थाना पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया है।

By: raktim tiwari

Published: 18 Oct 2020, 08:57 PM IST

अजमेर.

किशनगढ़ के पूर्व विधायक नाथूराम सिनोदिया के पुत्र भंवर सिनोदिया की हत्या के मामले में चश्मदीद गवाह रहे हरमाड़ा सरपंच भागचन्द चोटिया की रविवार को दिनदहाड़े किशनगढ़ में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या की वारदात के तार सिनोदिया हत्याकांड से ही जुड़े हैं। मोटर साइकिल पर आए तीन हत्यारे वारदात अंजाम देकर फरार हो गए।

पुलिस के अनुसार भागचन्द चोटिया रविवार शाम 4 बजे किशनगढ़ में बालाजी मंदिर के पास अपने परिचित से मिलकर लौट रहा था। कार में बैठने के दौरान दो बाइक पर आए तीन बदमाशों ने चोटिया पर ताबड़तोड़ फायर किए। गोली लगने के बाद भी चोटिया ने कार में बैठने का प्रयास किया लेकिन एक बदमाश ने पास आकर गोली मार दी। इससे चोटिया ढेर हो गया।

हत्यारे गोली दागने के बाद सांवत्सर रोड की तरफ फरार हो गए। जख्मी चोटिया को चाचा करतार जाट व परिचितों ने राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। वारदात के बाद एसपी कुंवर राष्ट्रदीप, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण किशनसिंह भाटी, सीओ किशनगढ़ शहर पार्थ शर्मा मौके पर पहुंचे।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned