MURDER: पहले जमकर पी शराब, फिर घोंप दिया सीने में चाकू

मृतक और उसका साथी थे नशे में धुत। आपसी कहासुनी में हुई चाकूबाजी।

raktim tiwari

February, 1509:58 AM

अजमेर.

कायड़ रोड-सरस्वती नगर के निकट मारपीट और चाकूबाजी में घूघरा के युवक की मौत हो गई। ग्रामीणों और सिविल लाइंस थाना पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दो घंटे में आरोपी को दबोच लिया। ग्रामीणों की पिटाई से आरोपी घायल हो गया। पुलिस उपचार के लिए जवाहरलाल नेहरू अस्तपाल लेकर पहुंची। आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

कायड़ रोड-सरस्वती नगर पर शराब का ठेका है। घूघरा निवासी शिवराज गुर्जर (35)पुत्र देवा और उसका साथी इकबाल (45) शराब पी रहे थे। दोनों में कई बार आपसी कहासुनी और मारपीट हुई। अचानक इकबाल ने जेब से चाकू निकालकर शिवराज पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। इससे शिवराज के हाथ, कंधे और सीने में चाकू लगा। चाकू लगते ही खून का फव्वारा छूट गया।

Read More: ...तो अब मार्बल नगरी को नहीं झेलनी पड़ेगी पेयजल किल्लत

हार्ट के नजदीक लागू चाकू
शिवराज की नाजुक स्थिति देख लोगोंने उसे तत्काल जवाहरलाल नेहरू अस्पताल पहुंचाया। शिवराज की तत्काल ईसीजी कर केज्युलिटी में भर्ती किया गया। लेकिन अत्यधिक खून बहने और हार्ट पंचर होने से उसकी मौत हो गई।

Read More: Happy Valentine's Day : वेलेंटाइन डे पर इठलाए रंग-बिरंगे फूल...

एसपी पहुंचे अस्पताल
चाकूबाजी के मामले की सूचना पर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप तत्काल जवाहरलाल नेहरू अस्पताल पहुंचे। उन्होंने सिविल लाइंस थाना प्रभारी डॉ. रविश सामरिया और मृतक शिवराज के संबंधियों-मित्रों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। एसपी ने सिविल लाइंस थाना पुलिस को पुख्ता जांच के निर्देश दिए।

Read More:आखिर निकल गया इंदिरा गांधी की प्रतिमा के अनावरण का मुहूर्त ,17 को आएंगे पायलट

मजदूरी करते थे दोनों

मृतक के भांजे सोनू गुर्जर ने बताया कि मृतक शिवराज खेती के अलावा मजदूरी करता था। आरोपी इकबाल मूलत: करौली जिले का बताया गया है। वह घूघरा में दस सास से कालू के मकान में किराए पर रहता था। वह भी मजदूरी करता है। इससे पहले वह गगवाना में भी किराए के मकान में रहता था।

Read More:Tonk : बजरी परिवहन : 9 डंपर, 4 ट्रैक्टर ट्रॉली, 4 कार जब्त

दीवार फांदते पकड़ा, लगाई पिटाई
आरोपी इकबाल घटनास्थल से फरार हो गया। ग्रामीण उसे तलाशते हुए घूघरा पहुंच गए। यहां दीवार फांदते वक्त लोगों ने उसे दबोचकर पीट दिया। सिविल लाइंस थाना पुलिस उसे लेकर जवाहरलाल नेहरू अस्पताल पहुंची। यहां उसका मेडिकल कराया गया। पिटाई से आरोपी के टांगों पर गंभीर चोट पहुंची है।

परिवार का था सहारा...
मृतक शिवराज परिवार का सहारा था। घर में उसकी बुजुर्ग मां, पत्नी और एक बेटा-बेटी हैं। इसके अलावा उसका छोटा भाई है। ग्रामीणों ने शिवराज की मौत की खबर सुनाई तो घर में कोहराम मच गया। अब परिवार की जिम्मेदारी उसके छोटे भाई पर आ गई है।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned