Nager Nigam : मानसून तक नालों की सफाई मुश्किल

लॉकडॉन के कारण देरी से शुरू हुई नालों की सफाई

By: himanshu dhawal

Published: 31 May 2020, 05:16 PM IST

हिमांशु धवल

अजमेर. मानसून सिर पर है, लेकिन अभी तक नालों की सफाई का काम सही तरीके से शुरू तक नहीं हो सका है। स्थिति यह है कि नगर निगम की ओर से बढ़े नालों की सफाई तो पोकलेन मशीन से शुरू कर दी, लेकिन मैन्युअल (श्रमिकों) होने वाली सफाई कार्य अभी तक शुरू नहीं हुआ है। इसके बावजूद नगर निगम प्रशासन 15 जून तक शहर तक नालों की सफाई का दावा कर रहा है।
नगर निगम की ओर से प्रतिवर्ष मानसून से पहले नालों की सफाई करवाई जाती है, जिससे बारिश का पानी शहर में एकत्र न हो और आसानी से बहकर निकल सके। इसके लिए निगम स्तर पर और ठेकेदार के माध्यम से नालों की सफाई कराई जाती है। इसमें दो फीट से अधिक चौड़े नालों की सफाई कराई जाती है। हालांकि इस बार कोरोना संक्रमण के चलते नगर निगम प्रशासन पूरी तरह से उसमें भी जुटा रहा। इसके कारण नालों की सफाई देरी से प्रारंभ हो सकी। वर्तमान में आठों सर्किल में पोकलेन मशीन से नालों की सफाई कार्य जारी है। इसमें कुछ वार्डों में नालों की सफाई होने का दावा किया जा रहा है। शहर के अंदरुनी क्षेत्र जहां पर मैन्युअल (सफाई कर्मचारियों) सफाई करानी है उसकी अनुमति का इंतजार है। अनुमति मिलने के बाद ही उनकी सफाई प्रारंभ होगी। उल्लेखनीय है कि हर बार ऐनवक्त पर ही आनन-फानन में सफाई करवाई जाती है।

फैक्ट फाइल

- 70 नालों की पोकलेन मशीन से होनी है सफाई

- 261 नाले है जिनकी मैन्युअल सफाई होनी

- 8 पोकलेन मशीन और 16 टेक्ट्रर लगे है सफाई में

इनका कहना है...
शहर के नालों की पोकलेन मशीन से सफाई पहले ही शुरू कर दी है। मैन्युअल नालों की सफाई आगामी एक-दो दिन में शुरू की जाएगी। शहर में 15 जून से पहले सभी नालों की सफाई कर ली जाएगी।

- गजेन्द्रसिंह रलावता, उपायुक्त नगर निगम

himanshu dhawal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned