कमाल का है ये एयरपोर्ट :यहां ढ़ाई महीने में अब तक केवल 14 उड़ान ,वजह जानकर आप भी सोच में पड़ जाएंगे

Sonam Ranawat

Publish: May, 18 2018 01:00:59 PM (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
कमाल का है ये एयरपोर्ट :यहां ढ़ाई महीने में अब तक केवल 14 उड़ान ,वजह जानकर आप भी सोच में पड़ जाएंगे

किशनगढ़ और उदयपुर के बीच 9 सीटर चार्टर प्लेन से शुरू हुई हवाई सेवा भी मात्र ढाई माह में 14 उड़ानों के बाद बंद हो गई।

 

कालीचरण/ मदनगंज-किशनगढ़. अजमेर लोक सभा उप चुनाव में राजनीतिक श्रेय लेने की जल्दबाजी में आधी अधूरी तैयारियों के बीच ही 11 अक्टूबर 2017 को किशनगढ़ एयरपोर्ट का उद्घाटन कर दिया गया। इसका हश्र यह हुआ कि किशनगढ़ और उदयपुर के बीच 9 सीटर चार्टर प्लेन से शुरू हुई हवाई सेवा भी मात्र ढाई माह में 14 उड़ानों के बाद बंद हो गई। इससे दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों के लिए रोज हवाई सेवा का सपना पांच साल बाद भी अधूरा है।

 

किशनगढ़ एयरपोर्ट के उद्घाटन मौके पर केन्द्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने यहां से दिल्ली के बीच हवाई सेवा शुरू करने का भरोसा दिया था। लेकिन तकनीकी और विभागीय अटकलों के चलते दिल्ली के लिए हवाई सेवा शुरू नहीं हो सकी। आखिरकार 9 सीटर चार्टर प्लेन से 1 दिसम्बर से किशनगढ़ और उदयपुर के बीच हवाई सेवा शुरू की गई जो किसी के काम नहीं आ रही। स्थिति यह है कि पर्यटकों को फायदा मिलना तो दूर स्थानीय लोगों के लिए भी हवाई यात्रा सपना ही बनी है।


अब तक 75 यात्रियों ने किया सफर

एक दिसम्बर से किशनगढ़ और उदयपुर के बीच शुरू हई हवाई सेवा भी मात्र ढाई महीने में बंद हो गई। इस अवधि में मात्र 14 फ्लाइटों का ही संचालन हो सका और सुप्रीम एयरलाइंस ने यात्री भार कम बताते हुए 23 जनवरी के बाद इस सेवा को बंद कर दिया। इस अवधि में किशनगढ़ से उदयपुर के लिए मात्र 50 यात्रियों और उदयपुर से किशनगढ़ के लिए मात्र 25 यात्रियों ने हवाई सफर किया।


एयरपोर्ट फैक्ट फाइल

-सितम्बर 2013 : भूमि पूजन

-क्षेत्रफल : 719 एकड़
-लागत : 264 करोड़ से अधिक

-रन वे - 2 किमी लम्बाई और 45 मीटर चौड़ाई

-11 अक्टूबर 2017 : उद्घाटन
-24 अक्टूबर 2017 : टेस्ट फ्लाइट

-1 दिसम्बर 2017 : उदयपुर-किशनगढ़ के बीच हवाई सेवा शुरू
-किराया : 2 हजार रुपए प्रति व्यक्ति।

-ढाई महीने : किशनगढ़ से उदयपुर के बीच 13 फ्लाइट।

-ढाई महीने : उदयपुर से किशनगढ़ के बीच 13 फ्लाइट।


'दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व तत्कालीन सांसद सचिन पायलट ने 40 साल से लंबित हवाई अड्डे की मांग पर व्यक्तिगत रुचि लेकर तमाम बाधाओं को दूर करते हुए हवाई अड्डे का निर्माण कराया। मौजूदा भाजपा सरकार ने चुनाव से पहले आनन फानन में हवाई अड्डे का उद्घाटन करवा दिया। आज स्थित दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके रख रखाव पर प्रतिमाह सवा करोड़ रुपए खर्च हो रहा है।

-डॉ. रघु शर्मा, सांसद अजमेर



उड़ान फेज-2 में किशनगढ़ एयरपोर्ट रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम में सम्मिलित हो गया है। इसके तहत स्पाइस जेट एयरलाइंस को किशनगढ़ दिल्ली रूट के लिए अप्रूवल किया गया है। किशनगढ़ एयरपोर्ट का सेफ्टी असेसमेंट भी किया जा चुका है। इसकी रिपोर्ट भी डीजीसीए को सौंपी जा चुकी है।

-अशोक कपूर, निदेशक, किशनगढ़ एयरपोर्ट

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned