scriptNow buy gold from the government till Makar Sankranti, 4786 gm | अब मकर संक्रांति तक सरकार से खरीदिए सोना, कीमत 4786 रुपए प्रतिग्राम | Patrika News

अब मकर संक्रांति तक सरकार से खरीदिए सोना, कीमत 4786 रुपए प्रतिग्राम

- सोमवार से खुला एसजीबी का सब्सक्रिप्शन, ऑनलाइन सब्सक्राइब करने वालों को 50 रुपए प्रति ग्राम की छूट - सुरक्षित निवेश का है आसान तरीका - 2.50 प्रतिशत की सालाना दर से मिलता है निश्चित ब्याज

भारत में सोने की खरीदारी को शुभ माना जाता है। वहीं, लोग इसे निवेश के एक प्रमुख तरीके के तौर पर भी देखते हैं। किसी भी उथल-पुथल वाली परिस्थिति में सोने के भाव में वृद्धि देखी जाती है। यही वजह है कि सोने को सुरक्षित निवेश माना जाता है।

अजमेर

Published: January 11, 2022 02:01:09 am

धौलपुर. भारत में सोने की खरीदारी को शुभ माना जाता है। वहीं, लोग इसे निवेश के एक प्रमुख तरीके के तौर पर भी देखते हैं। किसी भी उथल-पुथल वाली परिस्थिति में सोने के भाव में वृद्धि देखी जाती है। यही वजह है कि सोने को सुरक्षित निवेश माना जाता है। अगर आप केवल निवेश के उद्देश्य से सोना खरीदना चाहते हैं, तो आपके लिए सरकार से सोना खरीदने का बढिय़ा मौका है। सोवेरियन गोल्ड बॉन्ड (एसजीबी) योजना की नौवीं सीरीज सोमवार से सब्सक्रिप्शन के लिए खुल गई है। इस बॉन्ड को अमकर संक्रांन्ति यानि 14 जनवरी 2022 तक सब्सक्राइब किया जा सकता है।
Gold Rate Today : आज फिर महंगा हुआ सोना चांदी,कीमतों में बदलाव के साथ खुला सराफा बाजार
Gold Rate Today : आज फिर महंगा हुआ सोना चांदी,कीमतों में बदलाव के साथ खुला सराफा बाजार
यह है कीमत

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने एक बयान जारी कर बताया है कि इस सीरीज के लिए 4,786 रुपए प्रति एक ग्राम तय किया गया है। केंद्रीय बैंक ने यह भी बताया है कि इस बॉन्ड को ऑनलाइन सब्सक्राइब करने वालों को 50 रुपए प्रति ग्राम की छूट मिलेगी। इसका मतलब है कि अगर आप ऑनलाइन इसे सब्सक्राइब करते हैं और ऑनलाइन पेमेंट करते हैं तो आपको 4,736 रुपए प्रति ग्राम की दर से भुगतान करना होगा।
यह हैं गोल्ड बॉन्ड के फायदे

1. सस्ता: स्वर्णाभूषण की खरीद पर मेकिंग चार्ज और 3 फीसदी की दर से जीएसटी का भुगतान करना होता है। गोल्ड बॉन्ड खरीदने पर यह खर्च बच जाता है।
2. रखरखाव पर कोई खर्च नहीं: सोने के गहनों की सुरक्षा चिंता का कारण बन जाती है। ऐसे में या तो आप घर में कैमरे या लॉकर लगवाते हैं या फिर बैंक के लॉकर में रखते हैं। इसके एवज में हर साल एक निश्चित रकम देनी पड़ती है। गोल्ड बॉन्ड में यह खर्च भी बच जाता है।
3. ब्याज: सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की मेच्योरिटी अवधि 8 साल होती है। इस अवधि में निवेश पर 2.50 प्रतिशत की सालाना दर से निश्चित ब्याज मिलता है।

4. सुरक्षा: गोल्ड बॉन्ड को सरकार की ओर से आरबीआई जारी करता है, इसलिए इसकी सुरक्षा को लेकर किसी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं होती। दूसरी ओर, फिजिकल गोल्ड में शुद्धता को लेकर लोगों को काफी टेंशन रहती है।
ऐसे तय होती है कीमत

एसजीबी की हर सीरीज के लिए कीमतों के निर्धारण का तरीका काफी सरल है। इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन द्वारा जारी किए जाने वाले 999 शुद्धता वाले सोने के 3 दिन के बंद भाव के सामान्य औसत के हिसाब से कीमतों का निर्धारण होता है।
कर सकते हैं इतनी खरीददारी

एसजीबी के तहत आप न्यूनतम 1 ग्राम सोने की खरीदारी कर सकते हैं। वहीं, व्यक्तिगत निवेशक और हिन्दू अनडिवाइडेड फैमिली किसी एक वित्त वर्ष में अधिकतम 4 किलोग्राम सोना खरीद सकते हैं। वहीं ट्रस्ट और इस तरह के अन्य संगठन अधिकतम 20 किलोग्राम सोना खरीद सकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजUP Election 2022: सपा कार्यालय में आयोजित रैली में टूटा कोविड प्रोटोकॉल, लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में सपा नेताओं पर FIR दर्जGujarat Hindi News : दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्राओं समेत पांच की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.