scriptnow preparations to collect money for light and sound show at Machkund | पहले चंबल तक पहुंचने पर लगा शुल्क, अब मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो के पैसे वसूलने की तैयारी | Patrika News

पहले चंबल तक पहुंचने पर लगा शुल्क, अब मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो के पैसे वसूलने की तैयारी

- धौलपुर में पर्यटन स्थलों के हालात: सुविधाओं के नाम पर सिफर, शुल्क से जेब भरना मकसद - आरटीडीसी की ओर से जिला कलक्टर को भेजा गया पत्र

वन विभाग के बाद अब राजस्थान पर्यटन विकास निगम लि. (आरटीडीसी) ने भी धौलपुरवासियों की जेब ढीली करने की तैयारी कर ली है। राष्ट्रीय चंबल अभयारण्य की ओर से चंबल जाने पर शुल्क लगाया गया। अब आरटीडीसी मचकुंड आने वाले लोगों से शुल्क वसूलने की तैयारी में है।

अजमेर

Published: March 11, 2022 01:22:28 am

धौलपुर. वन विभाग के बाद अब राजस्थान पर्यटन विकास निगम लि. (आरटीडीसी) ने भी धौलपुरवासियों की जेब ढीली करने की तैयारी कर ली है। राष्ट्रीय चंबल अभयारण्य की ओर से चंबल जाने पर शुल्क लगाया गया। अब आरटीडीसी मचकुंड आने वाले लोगों से शुल्क वसूलने की तैयारी में है। दरअसल, आरटीडीसी ने मचकुंड पर होने वाले लाइट एंड साउंड शो के लिए टिकट दरें तय की हैं। अब आरटीडीसी लोगों से यह टिकट राशि वसूलना चाहता है। इसके लिए आरटीडीसी की ओर से जिला कलक्टर को पत्र लिख कर मचकुंड पर बेरिकेडिंग कराने की बात कही गई है।
पहले चंबल तक पहुंचने पर लगा शुल्क, अब मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो के पैसे वसूलने की तैयारी
पहले चंबल तक पहुंचने पर लगा शुल्क, अब मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो के पैसे वसूलने की तैयारी
यह है शुल्क

मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो के लिए आरटीडीसी ने टिकट की दरें तय की हैं। इसके लिए भारतीय वयस्क से 50 रुपए तथा विद्यार्थी व बच्चों से 25 रुपए का शुल्क लिया जाएगा। वहीं, विदेशी वयस्क से 100 रुपए तथा विद्यार्थी व बच्चों से 50 रुपए का शुल्क लिया जाएगा। इस शुल्क पर 18 प्रतिशत की दर से जीएसटी अलग से लगेगा। इस प्रकार प्रत्येक भारतीय वयस्क को 59 रुपए और बच्चों व विद्यार्थियों को 29.5 रुपए खर्च करने होंगे।
सुविधाओं के नाम पर सिफर

मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो और रंगीन फव्वारों को भले ही शुरू कर दिया गया हो लेकिन, यहां पर्यटकों के लिए सुविधाओं का नितांत अभाव है। यहां आवारा जानवरों के कारण गंदगी फैली रहती है। बंदरों के कारण भी पर्यटकों को परेशानी होती है। वहीं, यहां पर्यटकों को खाने-पीने के रेस्टोरेंट का भी अभाव है।
फंसेगा कई विभागों का पेंच

मचकुंड में लाइट एंड साउंड शो पर लगने वाले शुल्क को लेकर कई विभागों में पेंच फंसना तय है। मचकुंड पर देवस्थान विभाग, पुरातत्व विभाग, एएसआई, वन विभाग और पर्यटन विभाग का अधिकार क्षेत्र है। यह शुल्क आरटीडीसी द्वारा लगाया जा रहा है। कई विभागों के बीच वसूली सिर्फ पर्यटन विभाग करेगा। ऐसे में निश्चित ही सभी विभागों में पेंच फंसना तय है।
बेरिकेडिंग की मांग

आरटीडीसी की एमडी की ओर से जिला कलक्टर को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि आरटीडीसी ने लाइट एंड साउंड शो के लिए टिकट दरें तय की हैं। मचकुंड परिसर चारों ओर से खुला होने के कारण टिकट बेचे जाने में परेशानी आ रही है। पत्र में जिला कलक्टर से मचकुंड के चारों ओर बेरिकेेडिंग कराने की बात कही गई है।
बॉक्स...

वन विभाग भी नहीं है पीछे

धौलपुर में चंबल तक पहुंचने के नाम पर राष्ट्रीय चंबल अभयारण्य प्रशासन की ओर से भी पर्यटकों से शुल्क वसूला जा रहा है। ऐसे में नगर परिषद की बोटिंग साइट तक बहुत कम पर्यटक पहुंच रहे हैं। यहां वन विभाग की ओर से प्रति व्यक्ति 75 रुपए वसूले जा रहे हैं। फिर बोटिंग का खर्च अलग से देना होता है। ऐसे में धौलपुर में पूरा पर्यटन सीजन पर्यटकों की बाट देखते ही बीत गया। दूसरी ओर, चंबल के दूसरे किनारे पर मध्यप्रदेश में इस तरह का कोई शुल्क नहीं वसूला जा रहा है। ऐसे में वहां बोटिंग साइट पर पर्यटकों की भरमार रहती है।
इनका कहना है

मचकुंड पर लाइट एंड साउंड शो की टिकट दरें निर्धारित की गई हैं। टिकट विक्रय नहीं होने से शो के संचालन में परेशानी हो रही है। साथ ही यहां पर्यटकों के लिए मूलभूत सुविधाओं का भी अभाव है।
- डॉ. मनीषा अरोड़ा, प्रबंध निदेशक, आरटीडीसी
विभाग की ओर से पत्र मिला है। यहां कुछ व्यावहारिक दिक्कतें हैं, लोगों की भावनाएं भी हैं। ऐसे में सरकार को इन सब बातों से अवगत कराया जाएगा।

- राकेश कुमार जायसवाल, जिला कलक्टर, धौलपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.