scriptOccupation of the poor on the houses of the poor | गरीबों के मकानों पर गरीबों का कब्जा | Patrika News

गरीबों के मकानों पर गरीबों का कब्जा

बीएसयूपी योजना में यहां आवास बनाए गए हैं। भले ही यह मकान गरीबों के लिए ईयरमार्क हैं लेकिन फिलहाल यह खानाबदोशों के कब्जे में हैं। अब यहां रह रहे कब्जाधारी इसके वास्तविक हकदार हैं या नहीं, आखिर यह आवास किनको आवंटन होने हैं, इसका निर्णय आज 8 साल बाद भी नहीं हो सका है।

अजमेर

Published: November 26, 2021 03:02:33 pm

युगलेश शर्मा.

अजमेर. हम तो कचरा बीनने का काम करते हैं...। कुछ साल पहले पता चला कि यहां गरीबों के लिए मकान बनाए गए हैं तो इनमें आकर रहने लग गए। हममें से कइयों ने मकान आवंटन के लिए फार्म भी भर रखा है लेकिन पांच साल हो गए, ना तो हमें मकान आवंटित हुआ ना किसी और को...। यह उन लोगों का कहना है जो भगवानगंज कच्ची बस्ती में बेसिक सर्विसेज फॉर अरबन पूअर (बीएसयूपी) योजना में बने आधेे-अधूरे मकानों पर कब्जा करके रह रहे हैं।
दरअसल बीएसयूपी योजना में यहां आवास बनाए गए हैं। भले ही यह मकान गरीबों के लिए ईयरमार्क हैं लेकिन फिलहाल यह खानाबदोशों के कब्जे में हैं। अब यहां रह रहे कब्जाधारी इसके वास्तविक हकदार हैं या नहीं, आखिर यह आवास किनको आवंटन होने हैं, इसका निर्णय आज 8 साल बाद भी नहीं हो सका है। स्थिति यह हो गई कि यहां बने बनाए मकानों के खिड़की दरवाजे तक गायब हैं... मकानों के भीतर लगाए गए फिस्क्सचर नदारद हैं और यहां रहने वाले लोग चोरी की बिजली जला कर मौज कर रहे हैं। ऐसे में वास्तविक लोग अपने हक से वंचित हैं। इस सारे मामले में योजना के तहत किए जा रहे निमार्ण में हो रहा विलंब और प्रशासनिक लापरवाही भी उतनी ही जिम्मेदार है।
गरीबों के मकानों पर गरीबों का कब्जा
गरीबों के मकानों पर गरीबों का कब्जा
ऐसे घेरा जैसे एडीए अधिकारी आ गए हों...

पत्रिका टीम बुधवार को जैसे ही मौके पर पहुंची, वहां मकानों में कब्जा कर रह रहे लोग एक-एक कर बाहर आकर टीम को घेरकर खड़े हो गए। उनमें से एक ने कहा कि साहब...आप हमारा नाम लिख लो, हम पांच-छह साल से यहां रह रहे हैं...। इसके बाद सभी एक-एक कर अपना नाम बोलने लगे। उनका कहना था कि उनके पास रहने के लिए छत नहीं है। यहां रहने लग गए तो अब उनके नाम ही इन आवासों का आवंटन भी हो।
किसने क्या कहा. . .

हम कचरा बीनने का काम करते हैं। पहले 400-500 रुपए में किराए पर रहते थे। बाद में इन मकानों का पता चला तो यहां आकर रहने लग गए। यहां बने हुए लगभग सभी मकानों में हम जैसे ही लोग रह रहे हैं। मैंने फार्म भी भर रखा है लेकिन अभी तक आवंटन नहीं हुआ।
-रेखा
मैं पॉलिश करता हूं। पांच साल से यहां रह रहा हूं। फार्म नहीं भरा है लेकिन जो दस्तावेज होंगे, वह देकर निर्धारित पैसे जमा करा दूंगा।

-मोनू

इसलिए निर्माण अधूरा

दरअसल यहां जिन आवासों का आधा-अधूरा निर्माण हुआ उनके खिड़की, दरवाजे, नल व बिजली के उपकरण चोरी हो गए। चोरों के डर के कारण इन अधूरे आवासों का निर्माण करने के लिए ठेकेदार अब तैयार नहीं।
किसी को नहीं हुआ आवंटन

दरअसल बीएसयूपी के 224 आवासों में से 102 आवासों के लिए लाभार्थियों का चयन भी कर लिया गया, लेकिन लाभार्थियों ने आवास आवंटन के लिए सहमति नहीं दी तो लॉटरी रद्द करनी पड़ी। प्राधिकरण ने पुन: सर्वे किया लेकिन सड़क किनारे बसे हुए विभिन्न परिवारों में से कोई भी लाभार्थी नहीं मिला।
इनका कहना है

जेएनएनयूआरएम के तहत भगवानगंज में 304 आवासों का निर्माण प्राधिकरण अब रिस्क एडं कॉस्ट पर करेगा। इसके लिए पुन: निविदा आमंत्रित की जाकर ठेकेदार की बैंक गारंटी जब्त की जाएगी। ठेकेदार को 5.21 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है। 224 आवासों का निर्माण अधूरा है जबकि शेष में फिनिशिंग वर्क बाकी है।
-किशोर कुमार, एडीए सचिव

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%Ration Card से राशन नहीं लेने वालों पर भी होगी कार्यवाई, दूसरे के कार्ड का इस्तेमाल करने पर हो सकती है सज़ाराजस्थान में कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी,विवाह समारोह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमतिJaipur Corona Update: जयपुर में आज मिले 2919 नए कोरोना मरीज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.