छह घंटे तक शव को सडक़ पर रखा,प्रशासन के छूटे पसीने,मुआवजे के आश्वासन पर खत्म किया धरना

ट्रेलर की चपेट से प्रौढ़ की मौत से गुस्साए ग्रामीण, पुलिस व प्रशासन ने की समझाइश,मुआवजे की मांग पर पर अड़े रहे परिजन, मांगलियावास-रासमार्ग पर ग्रामीणों ने लगाया जाम

अजमेर. जनता की ताकत के आगे किसी की नहीं चलती। जनशक्ति के आगे अच्छे-अच्छे झुकते आए हैं। तभी तो कहा जाता है कि जनता की अदालत सबसे बड़ी है। जेठाना ग्राम पंचायत मुख्यालय पर भी शनिवार को यही हुआ। यहां मध्याह्न ३ बजे एक प्रौढ़ को ट्रेलर ने कुचल दिया। इसके चलते मौके पर मांस के लोथड़े फैल गए। खून का फव्वारा छूट गया।

ऐस विभत्स हादसा देख ग्रामीण भडक़ गए। घटना के बाद शव को बीच सडक़ पर रखकर ग्रामीणों ने धरना दिया। इस दौरान परिजन को मुआवजा राशि दिलाने की मांग की। पुलिस व प्रशासन ने खूब समझाइश की, लेकिन धरना समाप्त नहीं किया।

इसके चलते प्रशासन के पसीने छूट गए। उधर, सडक़ के दोनों पर भारी वाहनों की कतार लग गई। आखिर रात ९ बजे बाद प्रशासन ने आश्वासन दिया कि पीडि़त परिवार को मुख्यमंत्री सहायता कोष से मुआवजा दिलाया जाएगा। तब जाकर ग्रामीणों ने शव को उठाया। अब रविवार को शव का दाह संस्कार किया जाएगा।

सडक़ पार करते आई मौत

शनिवार को सडक़ पार करते समय ट्रेलर के चपेट से जेठाना निवासी मदन लाल पुत्र भीकमचंद खाती की मौत हो गई। ग्राम पंचायत कार्यालय के सामने से गुजरते समय ट्रेलर ने टक् कर मार दी। इसके चलते मदन लाल का सिर टायरों के नीचे कुचल गया।

ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत कार्यालय के सामने शव रखकर प्रदर्शन किया। इसके चलते स्टेट हाईवे पर यातायात रुक गया। सडक़ के दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गई। मांगलियावास थाना पुलिस ने नेशनल हाईवे पर स्थित जेठाना पुलिया से वाहनों को ब्यावर की ओर डायवर्ट कर दिया।

इससे पहले थानाधिकारी रामचंद्र कुमावत ने ग्रामीणों से समझाइश का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने। बाद में पुलिस उप अधीक्षक(ग्रामीण) विनोद सिपा तथा पीसांगन एसडीएम समंदर सिंह भाटीए भी मौके पर पहुंचे। रात नौ बजे तक समझाइश का दौर चलता रहा।

मौके पर कोई नहीं आया

हादसे के बाद ग्रामीण सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों तथा रास सीमेंट फैक्ट्री के मालिक को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़ गए। कईं घंटे बीतने के बाद भी इनका कोई नुमाएंदा नहीं आया। ऐसे में ग्रामीणों का गुस्सा और भी बढ़ गया। रात तक वार्ताओं के दौर चलते रहे। नसीराबाद विधायक रामस्वरूप लांबा भी मौके पर पहुंचे।

वैकल्पिक रास्ता करेंगे बंद

जेठाना मार्ग पर भारी वाहन चालक ब्यावर के पीपलाज टोल टैक्स बचाने के चक्कर में अपने टे्रलर मांगलियावास से जेठाना होते हुए प्राइवेट रास्ते पर निकल रहे हैं जो रास्ता वाहन चालकों ने खुद बना लिया। इस रास्ते से रास तक पहुंच रहे हैं। इस मार्ग पर दुर्घटनाएं बढ़ रही है। शनिवार रात ९ बजे बाद ग्रामीणों से समझाइश के दौरान प्रशासन ने आश्वासन दिया कि इस मार्ग को बंद किया जाएगा

suresh bharti
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned