scriptOrganized businessman became sand mafia, sand vehicles operating fearl | संगठित कारोबारी बना रेता माफिया, दिनदहाड़े बेखौफ संचालित हो रहे रेता वाहन | Patrika News

संगठित कारोबारी बना रेता माफिया, दिनदहाड़े बेखौफ संचालित हो रहे रेता वाहन

एक ओर सरकार खनन माफिया पर नियंत्रण की बातें कर संगठित अपराधों पर लगाम का दावा कर रही है, वहीं राजाखेड़ा क्षेत्र में अवैध चम्बल रेता उत्खनन अब बड़े स्तर पर संगठित होकर संचालित हो रहा है। जहां रात में नहीं, बल्कि दिन दहाड़े रेता लदे ट्रक कई थाना क्षेत्रों और चौकियों से गुजरते हुए बेखौफ उत्तरप्रदेश की सीमाओं में जा रहे हैं।

अजमेर

Updated: May 21, 2022 01:07:01 am

राजाखेड़ा. एक ओर सरकार खनन माफिया पर नियंत्रण की बातें कर संगठित अपराधों पर लगाम का दावा कर रही है, वहीं राजाखेड़ा क्षेत्र में अवैध चम्बल रेता उत्खनन अब बड़े स्तर पर संगठित होकर संचालित हो रहा है। जहां रात में नहीं, बल्कि दिन दहाड़े रेता लदे ट्रक कई थाना क्षेत्रों और चौकियों से गुजरते हुए बेखौफ उत्तरप्रदेश की सीमाओं में जा रहे हैं। वहीं जिला पुलिस अभी मूकदर्शक बन इस शक्तिशाली माफिया को और भी ताकतवर बना रही है। क्या हैं हालात
संगठित कारोबारी बना रेता माफिया, दिनदहाड़े बेखौफ संचालित हो रहे रेता वाहन
संगठित कारोबारी बना रेता माफिया, दिनदहाड़े बेखौफ संचालित हो रहे रेता वाहन
राजाखेड़ा उपखंड के दिहोली और राजाखेड़ा थाना क्षेत्रों में आधा दर्जन चम्बल घाट अवैध रेता उत्खनन के जिले में सबसे बड़े केंद्र हैं। जहां से सैकड़ों ट्रेक्टर-ट्रॉलियों से दिन-रात उत्खनन किया जा रहा है। इसे बड़े माफिया अपने निजी स्थानों पर संग्रहित करवाते हैं, जिसे ट्रकोंं और डम्फरों में भरकर मोटे दामो पर उत्तरप्रदेश की मंडियों में भेजते हैं। यह ट्रक सख्ती के समय तो तिरपाल से ढंक कर आम आदमी की निगाहों से बचा कर ले जाए जाते हैं, लेकिन जब सख्ती नहीं होती तो खुले आम दिनभर इनका आवागमन उत्तरप्रदेश की ओर चलता रहता है। खास तथ्य यह है कि ये दिहोली थाना क्षेत्र के साथ पुलिस चौकी टाउन, पुलिस चौकी हाट मैदान और राजाखेड़ा थाना क्षेत्रों से होकर खुलेआम स्टेट हाईवे पर दौड़ भरते हैं।शुक्रवार को भी ऐसा ही एक ओवरलोड ट्रक, जो क्षमता से दोगुना भरा हुआ था, दोपहर एक बजे आम का पुरा गांव के पास हाईवे पर पंचर हो गया। जिसके लिए माफिया द्वारा एक घंटे में दूसरा टायर लाया गया और आधा घंटा बदलने में भी लगा। अनेक राहगीरो ने इसके फोटो खींचे, लेकिन सरपरस्ती के चलते यह डेढ़ बजे से चार बजे तक वहीं खड़ा रहा और उसके बाद तेज रफ्तार से आधा घंटे का सफर कर चौकी टाउन के सामने से बेरिकेडिंग बेखौफ पार कर आगरा की ओर निकल गया।
कहां है गश्त
ट्रोला डेढ़ बजे से पौने पांच बजे तक क्षेत्र में सडक़ों पर आराम से विचरण करता रहा, लेकिन कड़ी पुलिस गश्त के दावे सडक़ों पर कहीं नजर नहीं आ रहे। चौकियों के बेरिकेडिंग भी जांच के अभाव में सूने नजर आ रहे हैं या गर्मी के चलते ये भी जांच का विषय है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरभाजपा विधायक केपी त्रिपाठी के समर्थकों की गुंडागर्दी, सीईओ को पीटकर कचरे के ढेर में फेंकाDelhi: भारत को अमीर देश बनाने के लिए हर भारतवासी को अमीर बनाना पड़ेगा - अरविंद केजरीवालमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listजिम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को कप्तान बनाए जाने पर पहली बार शिखर धवन ने दी अपनी प्रतिक्रियाVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकाला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.