पालबीसला वैकल्पिक मार्ग : यूडीएच डिपार्टमेंट ने जारी किया मार्गदर्शन

तालाबी भूमि छोड़ अन्य की जा सकेगी अवाप्त

स्मार्ट सिटी के तहत 1.5 किमी सड़क का होगा निर्माण

ईपीएस...8 फरवरी ...

By: bhupendra singh

Published: 19 Mar 2020, 07:04 AM IST

अजमेर .शहर को स्टेशन रोड के समानान्तर पालबीसला वैकल्पिक मार्ग Palabisala Alternative Route उपलब्ध करवाने के लिए स्मार्ट सिटी smart city प्रोजेक्ट के तहत मार्टिंडल ब्रिज से तोपदड़ा स्कूल तक नई सड़क निर्माण की गाड़ी आगे बढ़ती नजर आ रही है। योजना में भूमि अवाप्ति को लेकर नगरीय विभाग Department ( UDH यूडीएच) ने अजमेर विकास प्राधिकरण को बुधवार को मार्गदर्शन guidance जारी कर दिया। यूडीएच के संयुक्त सचिव (प्रथम) मनीष गोयल के अनुसार क्षेत्र में नाले की जमीन को छोड़ते हुए अन्य भूमि सड़क निर्माण के लिए अवाप्त की जा सकती है।

यह करना होगा अवाप्ति के लिए
अवाप्त भूमि के बदले मुआवजा अथवा विकसित भूमि दी जा सकती है। लेकिन जिस नियम के तहत अवाप्ति की जाती है उस अधिनियम के प्रावधान/नियमों की पालना के बाद ही विकसित भूमि या नकद मुआवजा दिया जा सकेगा। अवाप्त भूमि के बदले विकसित भूमि उसी योजना में दी जानी चाहिए जिस योजना के लिए भूमि अवाप्त की गई है। समान योजना में भूमि उपलब्ध नहीं होने पर राज्य सरकार की पूर्वानुमति से अन्य योजना में दी जा सकती है। सड़क जिस विभाग के क्षेत्राधिकार में है वही विभाग अवाप्त भूमि की मुआवजा राशि देगा।

यह है नाला किस्म की भूमि
यूडीएच के मुताबिक तालाब एवं नालों से सिंचित भूमि को ही नाला एवं तालाबी किस्म की भूमि माना जाता है। ऐसी भूमि अब्दुल रहमान बनाम राजस्थान सरकार के निर्णय से प्रभावित नहीं होती हैं। वैकल्पिक सड़क के बीच कुछ खसरा नम्बरों की किस्म तालाबी की भूमि आ रही है।

अनुमानित मुआवजा 10 करोड़ रुपए

सड़क निर्माण के लिए राजस्व ग्राम थोकमालियान प्रथम के खसरा नम्बर 4336, 4330, 4301 तथा 4312 की किस्म नाला है। सड़क निर्माण के लिए 29 खातेदारों की 3.21 हेक्टेयर भूमि व 0.807 हेक्टेयर भूमि सरकारी विभागों की है। सड़क के लिए 3.928 हेक्टेयर भूमि खातेदारी व 3389 वर्गमीटर आवासीय भूमि स्मार्ट सिटी के तहत आवाप्त किया जाना है। 29 आवासों का निर्माण निजी भूमि पर है। खातेदारी जमीन एवं इस पर बने मकानों का मुआवजा मौजूदा डीएलसी दर से 10 करोड़ के लगभग बैठता है।

नई सड़क से यह होगा फायदा

पालबीसला वैकल्पिक सड़क बनने से शहर के लोगों को स्टेशन रोड के समानांतर नया मार्ग मिलेगा। स्टेशन रोड पर यातायात का दबाव कम होगा। गुलाबबाड़ी, मदार, धोलाभाटा, आदर्श नगर, श्रीनगर रोड के लोगों को रेलवे स्टेशन, बस स्टेंड की ओर जाने के लिए स्टेशन रोड पर नहीं जाना पड़ेगा। इस मार्ग के बनने से रेलवे के सैकंड एंट्री गेट का भी रेल यात्रियों को फायदा मिलेगा। आवागमन के साधन सैकंड एंट्री गेट पर ही मिल जाएंगे।

read more: मुकदमों की सुनवाई नहीं की तो 'बिगड़ेगी अफसरों की एसीआर

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned