राजनीतिक रण : ये हुआ हमारे शहर का हाल जब थोक के भाव मिले थे यहां राजनेताओं को वोट

राजनीतिक रण : ये हुआ हमारे शहर का हाल जब थोक के भाव मिले थे यहां राजनेताओं को वोट

Sonam Ranawat | Publish: Sep, 04 2018 01:13:09 PM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

www.patrika.com/ajmer-news

अजमेर. पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस को जहां थोक के भाव वोट मिले वहां के मतदाताओं को दोनों ही दलों ने भूला दिया। पक्ष हो या विपक्ष जहां सर्वाधिक वोट मिले वहां के लोगों की उम्मीदें धराशाही ही हुई है। कांग्रेस को जहां सर्वाधिक वोट दिए वहां तो बिना सत्ता के विकास कार्य होने की उम्मीद वैसे भी नहीं थी, लेकिन जहां भाजपा को सर्वाधिक वोट मिले वहां भी उम्मीद के मुताबिक काम नहीं हुए। जिले के विधायकों का दावा भले ही समानता से विकास कार्य करवाने का हो, लेकिन उनका फोकस वहां ज्यादा है जहां वे पिछले चुनावों में पिछड़े हैं।

 

जिले के जिन बूथों पर सर्वाधिक पिछड़े वहां दोनों ही दलों ने अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए एडी-चोटी का जोर लगा रखा है। भाजपा जहां ‘पन्ना प्रमुख’ योजना के तहत घर-घर पहुंच कर और विधायक कोष से विकास कार्य करवा कर इन बूथों पर डेमेज कंट्रोल करने की कोशिश में है, वहीं कांग्रेस ‘मेरा बूथ-मेरा गौरव’ अभियान के जरिए कार्यकर्ताओं में जान फूंक कर पिछड़े बूथों पर बढ़त लेने का प्रयास कर रही है।

 

भाजपा कहिन

सभी जगह विकास कार्य करवाए गए हैं। पिछले चुनाव में मिले वोट के आधार पर हमनें बूथों की ग्रेडिंग की है। अब सी श्रेणी वाले बूथ को बी श्रेणी में व बी को ए श्रेणी में तब्दील करने का काम जारी है। बूथ समितियां व प्रभारी नियुक्त किए गए हैं। शक्ति केन्द्रों के जरिए समय समय पर बैठकें कर फीडबैक लिया जा रहा है।


-भगवती प्रसाद सारस्वत, देहात जिला अध्यक्ष, भाजपाकांग्रेस कहिनहम अगर ध्यान नहीं देते तो लोकसभा चुनाव में हमें जीत नहीं मिलती। मेरा बूथ-मेरा गौरव का आयोजन उन स्थानों पर किया गया है जहां कांग्रेस को सर्वाधिक वोट मिले हैं। बिजली, पानी, सफाई आदि समस्याओं के लिए हमनें आंदोलन किया है।

-महेन्द्र सिंह रलावता, प्रदेश कांग्रेस सचिव

 

व्यापारी
अग्रसेन नगर क्षेत्र में पिछले बीस साल में न तो सडक़ें बनी और न ही नालियों का निर्माण हुआ, जबकि इन जन समस्याओं के लिए क्षेत्रीय लोग निरंतर मांग करते रहे हैं। इस संदर्भ में कई बार ज्ञापन भी दिए जा चुके हैं। लेकिन न तो भाजपा सरकार के समय कुछ हुआ और न ही कांग्रेस की सरकार में। स्थानीय लोगों को समस्या निस्तारण का इंतजार है।

भरत सर्राफ, मार्बल व्यापारी, किशनगढ़


पंचशील राजीव गांधी सर्किल के सामने और आसपास रहने वाले सैकड़ों लोग पार्र्किंग की समस्या से परेशान है। मॉल में आने वाले लोग कॉलोनी में रहने वाले लोगों के घरों के सामने पार्र्किंग करते हैं। मॉल के अन्दर गाड़ी खड़ी नहीं करने दी जाती।

अंकित रंगा, विद्यार्थी, अजमेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned