बस स्टैंड पर दुर्गंधयुक्त वातावरण से यात्री परेशान

वर्षों से चला आ रहा सफाई कार्मिकों का टोटा

शहर के केन्द्रीय बस स्टैण्ड पर अपर्याप्त प्रसाधन (टॉयलेट्स) एवं नियमित सफाई के अभाव तथा परिसर मेंं दुर्गन्धयुक्त वातावरण होने से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बस स्टैण्ड की दीवारें भी पान व गुटखे की पीक से बदरंग पड़ी हैं।

By: Dilip

Published: 06 Jan 2021, 11:55 PM IST

धौलपुर. शहर के केन्द्रीय बस स्टैण्ड पर अपर्याप्त प्रसाधन (टॉयलेट्स) एवं नियमित सफाई के अभाव तथा परिसर मेंं दुर्गन्धयुक्त वातावरण होने से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बस स्टैण्ड की दीवारें भी पान व गुटखे की पीक से बदरंग पड़ी हैं। जिला मुख्यालय स्थित केन्द्रीय बस स्टैण्ड से जिले के विभिन्न कस्बों व ग्रामीण अंचलों को ही नहीं सीमावर्ती राज्यों सहित अनेक दूरस्थ स्थानों के लिए भी राजस्थान रोडवेज सहित विभिन्न राज्यों की बसों का संचालन होने से विभिन्न राज्यों के यात्रियों का आवागमन भी होता है।
राजस्थान रोडवेज की करीब पांच दर्जन बसों के अलावा विभिन्न राज्यों की भी करीब दो दर्जन से अधिक बसें यहां से प्रतिदिन संचालित होती हैं। लेकिन इस बस स्टैण्ड पर पुरुष व महिला यात्रियों के लिए पर्याप्त शौचालयों का अभाव है। इससे सबसे अधिक परेशानी महिला यात्रियों को होती है। पुरुष यात्रियों को भी खुले में ही लघुशंका जाना पड़ता है जिससे बस स्टैण्ड परिसर में विभिन्न स्थानों पर वातावरण काफी दुर्गन्धयुक्त बना रहता है। जिस कारण लोगों का परिसर में खड़ा रहना भी मुश्किल हो जाता है। दूसरी ओर महिलाओं के लिए अलग से कोई प्रसाधन ( टॉयलेट्स)नहीं है। सुलभ कॉम्पलेक्स में संचालकों द्वारा महिला यात्रियों से लघुशंका के लिए भी शुल्क वसूलने की शिकायतें भी कई बार सामने आई है। बस स्टैण्ड परिसर में टिकट खिडक़ी के नीचे व आस-पास की दीवारें पान व गुटखों की पीक से बदरंग कर दी गईहैं। इससे पूरे परिसर का स्वरूप ही खराब हुआ पड़ा है।

सफाईकार्मियों का टोटा
धौलपुर रोडवेज बस स्टैंण्ड पर सफाई कार्मिकों के स्वीकृत पद पिछले कई वर्षों से रिक्त चल रहे है। ऐसे में यहां की सफाई व्यवस्था रामभरोसे ही संचालित है। यहां जगह-जगह कचरे के ढेर लगे रहते है, जिन्हें कई बार शिकायत करने के बाद नगर परिषद की ओर से हटाया जाता है। रोडवेज प्रशासन की ओर से कई बार लिखित व मौखिक तौर पर सफाई कार्मिकों की मांग भी की जाती रही है, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned