सर्दी, जुकाम और खांसी के मरीज बढ़े

बारिश की देरी ने बढ़ाई मौसमी बीमारियों ने पैर पसारे -अस्पताल का ओपीडी पहुंचा पांच सौ के पार

उपखंड क्षेत्र में सही समय पर बारिश नहीं होने से मौसमी बीमारियां बढऩे लगी है। ऐसे में ओपीडी का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। मंगलवार को शहर के अस्पताल में दिखाने आए मरीजों की भीड़ देखी गई। पर्चा काउंटर पर महिला एवं पुरुषों की लंबी लाइन लग गई। ज्यादातर बुखार, जुखाम और खांसी के साथ उल्टी दस्त से पीडि़त मरीज नजर आए।

By: Dilip

Published: 25 Aug 2020, 11:22 PM IST

बाड़ी. उपखंड क्षेत्र में सही समय पर बारिश नहीं होने से मौसमी बीमारियां बढऩे लगी है। ऐसे में ओपीडी का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। मंगलवार को शहर के अस्पताल में दिखाने आए मरीजों की भीड़ देखी गई। पर्चा काउंटर पर महिला एवं पुरुषों की लंबी लाइन लग गई। ज्यादातर बुखार, जुखाम और खांसी के साथ उल्टी दस्त से पीडि़त मरीज नजर आए। प्राथमिक चिकित्सा की सलाह दी गई हालाकि कुछ मरीजों को भर्ती भी किया गया।

पीएमओ डॉ. एसडी मंगल ने बताया कि मौसमी बीमारियां ज्यादा व्यापक रूप में नहीं है, लेकिन फिर भी अस्पताल में दिखाने आए मरीजों का ग्राफ बढ़ा है। अभी आऊट डोर मरीजों का आंकड़ा 500 के तक पहुंच रहा है।
बारिश कम होने के बावजूद यह हालात है। आमजन को दूषित भोजन से दूर रहने, पानी को गरम कर या छानकर पीने व खुले में नहीं सोने की सलाह दी जा रही है। इससे ही मौसमी बीमारियों से बचा जा सकता है।

सात हुए रिकवर तो दो मरीज आए सामने

बाड़ी. कोरोना संक्रमण के बीच मंगलवार को जयपुर से आई जांच रिपोर्ट में बाड़ी उपखंड क्षेत्र से दो संक्रमित सामने आए हैं। जिनको आइसोलेट कर उपचार शुरू कराया गया है।

पीएमओ डॉ. एसडी मंगल ने बताया कि मंगलवार को जयपुर से आई जांच रिपोर्ट में एक युवक शहर के गुम्मट मोहल्ले से कोरोना संक्रमित मिला है, वहीं एक युवक उपखंड के हुसैनपुरा गांव से सामने आया है। दोनों को आइसोलेट कर उपचार शुरू करा दिया गया है। वहीं 7 मरीज रिकवर हुए, उन्हें छुट्टी दे दी गई है। अब उपखण्ड क्षेत्र में एक्टिव केसों की संख्या 35 से घटकर 28 रह गई है। मंगलवार को शहर के अलग-अलग जांच केंद्रों पर 208 सैंपल लिए गए। जिन्हें जांच के लिए जयपुर भेजा गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned