पायलट और डूडी मिले डॉक्टर्स से, यूं निकाला सरकार के खिलाफ कैंडल मार्च

raktim tiwari

Publish: Dec, 08 2017 08:53:27 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
पायलट  और डूडी मिले डॉक्टर्स से, यूं निकाला सरकार के खिलाफ कैंडल मार्च

सर्किट हाउस से जयपुर जाते समय पायलट व डूडी व अन्य कांग्रेस नेता चिकित्सकों के कैंडल मार्च में शामिल हुए।

अजमेर।

अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ एवं जेएलएन मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट चिकित्सकों ने अस्पताल से बजरंगगढ़ तक कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान बजरंगगढ़ पर सर्किट हाउस से जयपुर रवाना हुए पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट एवं प्रतिपक्ष नेता रामेश्वर डूडी ने गाड़ी रोक कर चिकित्सकों से मुलाकात की।

चिकित्सकों ने दोनों नेताओं को राज्य सरकार की हठधर्मिता से अवगत कराते हुए कांग्रेस का भी समर्थन मांगा। इस पर पायलट व डूडी ने भी विधानसभा में चिकित्सकों की मांगें उठाने व समस्या हल का आश्वासन देते हुए समर्थन दिया।

सेवारत चिकित्सा संघ के प्रदेश प्रतिनिधि एवं जिला उपाध्यक्ष डॉ. अनन्त कोटिया, रेजीडेंट अध्यक्ष राजेन्द्र लामरोड़, डॉ राजेश यादव के नेतृत्व में चिकित्सकों एवं रेजीडेंट चिकित्सकों की ओर से निकाला गया कैंडल मार्च बजरंगगढ़ चौराहा पहुंचा। यहां राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

इसी दौरान सर्किट हाउस से जयपुर जाते समय पायलट व डूडी व अन्य कांग्रेस नेता चिकित्सकों के कैंडल मार्च में शामिल हुए। डॉ. कोटिया व चिकित्सकों ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से समझौते को लागू करने के बजाय संघ के पदाधिकारियों व चिकित्सकों के जानबूझकर तबादले कर परेशान किया जा रहा है।

इस संबंध में पायलट को पूर्व में भी ज्ञापन सौंपा गया। चिकित्सकों ने कहा कि राजतंत्र में चिकित्सकों की मांगों को विपक्ष भी पुरजोर तरीके से नहीं उठा रहा है। चिकित्सा मंत्री चिकित्सकों के खिलाफ गलत बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसे में विपक्ष को भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलना चाहिए। पायलट ने कहा कि चिकित्सकों को उनका पूरा समर्थन है।

सामूहिक अवकाश पर
प्रदेश प्रतिनिधि डॉ. कोटिया ने बताया कि शुक्रवार को सेवारत चिकित्सकों को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। इससे जिलेभर में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, जिला चिकित्सालय व जेएलएन के सेवारत चिकित्सक अवकाश पर रहेंगे।

टेंट लगाकर रोगियों का उपचार

ड़ताल के दौरान समझौते की मांगें नहीं मानने का आरोप लगाते हुए चिकित्सक पिछले एक पखवाड़े से सांकेतिक विरोध कर रहे हैं। इसी के तहत पुष्कर चिकित्सालय में आउटडोर खाली नजर आया। सभी चिकित्सकों ने चिकित्सालय परिसर में बाहर दालान में टेंट लगाकर रोगियों का उपचार किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned