वो कर रहे थे लोगों की सेहत से खिलवाड़, पुलिस ने किया कुछ यूं भंडाफोड़

सिविल लाइंस थाना पुलिस की स्पेशल टीम ने नकली देशी घी बनाने के गिरोह का भंडाफोड़ किया है।

By: सोनम

Published: 09 Dec 2017, 03:43 PM IST

अजमेर . सिविल लाइंस थाना पुलिस की स्पेशल टीम ने नकली देशी घी बनाने के गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने मामले में उत्तर प्रदेश के दो आरोपितों सहित चार जनों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पाम ऑयल से भरा टैंकर जब्त कर लिया है। मामले का मास्टर माइंड फरार होने में कामयाब हो गया। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

 

सिविल लाइन थाना प्रभारी करण सिंह के निर्देश पर स्पेशल टीम जयपुर रोड अशोक उद्यान के पास एक ढाबे पर पहुंची। यहां मौके पर कुछ युवक टैंकर से ऑयल निकाल कर पीपों में भर रहे थे।
पुलिस ने मौके से घूघरा निवासी किशन गुर्जर, गाबी लालगंज प्रतापगढ़ यूपी निवासी मोहम्मद माजिद व मोहम्मद सद्दाम तथा दूदू निवासी ग्यारसीलाल को गिरफ्तार कर लिया। पॉम ऑयल से भरा ट्रक भी जब्त कर सिविल लाइन थाने ले आए।

नकली घी बनाने में प्रयुक्त होता है पॉम आयल
प्रारंभिक पूछताछ में पुलिस को पता चला है कि किशन मोहन नामक व्यक्ति यहां से पॉम आयल ले जाता है। जो संभवत: नकली देशी घी बनाने के काम आता है। पॉम ऑयल गुजरात से कानपुर ले जाना बताया है। आरोपित चालक व खलासी टैंकर से पाम ऑयल चोरी करते थे। इन्हें पीपों में भरकर ढाबे पर छोड़ देते थे।

यहां से किशन मोहन इन्हें कहां ले जाता था। संभवत: अजमेर किशनगढ़ क्षेत्र में कहीं नकली देशी घी का निर्माण किया जाता है। पुलिस इस दिशा में भी तफ्तीश कर रही है। आरोपितों को शनिवार को अदालत में पेश किया जाएगा। स्पेशल टीम में मनोज कुमार, रामनारायण, जितेन्द्र सिंह, जोगेन्द्र, शंकरलाल, महीपाल, रतन सिंह, पवन कुमार शामिल रहे।

 

यह भी पढ़ें....छेड़छाड़ के आरोपितों को भेजा जेल

अजमेर. मारपीट व छेड़छाड़ के एक मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर शुक्रवार को अदालत में पेश किया। कोर्ट ने आरोपितों को जेल भेजने के आदेश दिए।
पीडि़ता ने रामगंज थाने में गत दिनों रिपोर्ट लिखाई थी, जिसमें आरोपित राजकुमार, मनोज व पन्ना सिंह के खिलाफ मारपीट व छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। बेकाबू क्रेन मकान में घुसीअजमेर. आदर्श न्रगर थाना क्षेत्र स्थित विज्ञान नगर रेलवे फाटक के पास एक क्रेन बेकाबू होकर मकान की चार दीवारी में घुस गई। गनीमत रही कि मकान के कमरे की दीवार तक नहीं पहुंची अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। नसीराबाद रोड स्थित डीएवी शताब्दी स्कूल के सामने से विज्ञान नगर की ओर जाने वाले रास्ते पर रेलवे क्रॉसिंग से गुजर रही एक क्रेन बेकाबू होकर के.के. मुंडोतिया के मकान की चार दीवारी में जा घुसी। क्रेन की गति कम होने से वह वहीं अटक गई। अन्यथा मकान के कमरे की दीवारें क्षतिग्रस्त हो सकती थी।

सोनम Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned