पुलिस नहीं पहुंचती तो नाबालिग की हो जाती शादियां

पुलिस नहीं पहुंचती तो नाबालिग की हो जाती शादियां

Suresh Bharti | Publish: May, 19 2019 12:17:33 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

जांच में तीन लड़कियां व दो लड़के निकले नाबालिग, पुलिस ने नोटिस के जरिए किया पाबंद, पीपल पूर्णिमा पर शादी की थी तैयारी

केकड़ी (अजमेर). राज्य सरकार व स्वयंसेवी संगठन भले ही बाल विवाह के खिलाफ अभियान चलाएं। रैली, संगोष्ठी, सेमिनार व प्रचार सामग्री के जरिए बाल विवाह को सामाजिक अभिशाप बताकर जनजागरुकता के प्रयास किए जाएं। कानून भी बनाया गया है। इसके बावजूद बाल विवाह थम नहीं रहे।

प्रशासन सख्त हुआ तो ग्रामीणों ने बाल विवाह के तरीके भी ढूंढ निकाले। कोई तुलसी विवाह,गंगभोज व अन्य समारोह की आड़ में भी चोरीछिपे नाबालिगों के विवाह करने लगे हैं। पुलिस ने शनिवार को केकड़ी उपखण्ड क्षेत्र में ऐसे ही पांच मामले पकड़े हैं।

ज्ञापन देकर जानकारी

थानाधिकारी राजेन्द्र कुमार गोदारा ने बताया कि चाइल्ड लाइन के कोर्डिनेटर रणजीत सिंह केशावत ने तालुका विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष को ज्ञापन देकर इसकी जानकारी दी थी। इसमें बताया गया कि लसाडिय़ा निवासी दुर्गालाल मेघवंशी की दो नाबालिग पुत्रियों का विवाह 18 मई को हो रहा है। सूचना पर हैड कांस्टेबल सम्पतराज मीणा, हलका पटवारी व पुलिस जाप्ते के साथ मौके पर पहुंचे।

पूछताछ में पता चला कि यहां चार लड़कियों के विवाह होने हैं। इनमें से एक लड़की बालिग है, लेकिन जिस लड़के के साथ उसका विवाह होना है, वह नाबालिग है। इसके अलावा अन्य तीन लड़कियां नाबालिग है।
इसी प्रकार पुलिस को फोन पर सूचना मिली कि तसवारिया निवासी सुखदेव जाट के नाबालिग पुत्र का विवाह 18 मई को है। पुलिस मौके पर पहुंची तो सुखदेव ने विवाह समारोह को लेकर अनभिज्ञता जताई।

नोटिस देकर पाबन्द

पुलिस ने लसाडिय़ा में नाबालिग लड़कियों के पिता दुर्गालाल मेघवंशी व लड़के के पिता तसवारिया निवासी सुखदेव जाट के खिलाफ उपखण्ड अधिकारी के समक्ष अलग-अलग इस्तगासा पेश किया। एसडीएम ने दोनों प्रकरणों में संबंधित पक्षों को बाल विवाह नहीं करने के लिए नोटिस देकर पाबन्द किया है

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned