scriptPoor construction: , stone nets of windows broken in two days | घटिया निर्माण: , दो दिन में ही टूटी झरोखे के पत्थर की जालियां | Patrika News

घटिया निर्माण: , दो दिन में ही टूटी झरोखे के पत्थर की जालियां

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट

अजमेर

Updated: March 05, 2022 06:42:40 pm

अजमेर. आनासागर झील के किनारे करोड़ रूपए खर्च कर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत बनाए गए पाथ-वे का घटिया निर्माण चंद दिनों में ही नजर आने लगा है। झील के किनारे स्माट्र सिटी प्रोजेक्ट के तहत झरोखे बनाए गए हैं जिसे अजमेर के लोग व पर्यटक सेल्फी प्वाइंट के रूप में भी देखते हैं। यहां से झील की सुंदरता और अरावली पहाड़ियों का नजारा देखा जाता है तथा सन सेट को देखने के लिए लोग पहुंचते हैं। वर्तमान में स्मार्ट सिटी के तहत झील के सौंदर्य करण का काम पूरा भी नहीं हुआ है लेकिन झरोखों की जालिया टूट कर झील में गिरने लगी हैं। शुक्रवार को गौरव पथ से सटे दो झरोखों में सुंदर दिखने वाली पत्थर की जालियां टूटी हुई मिली। जबकि इन दिनों झरोखे के आसपास चल रहे पाथवे व अन्य सौंदर्य करण के कार्य करने में श्रमिक जुटे हैं। जानकारों का कहना है कि जो पत्थर झील के किनारे लगाए जा रहे हैं वह कच्च है तथा झील के पानी के पास लगाए जाने के लिए उपयुक्त नहीं है। ना ही इनकी कोई प्रयोगशाला जांच की करवाई गई। स्मार्ट सिटी के अभियंता जम कर घटिया पत्थर लगावाने में जुटे हुए हैं।
ajmer
ajmer
मणिपुंज के बाहर ठेला संचालकों का कब्जा, श्रद्धालु परेशान
शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं, जैन समाज ने दी आन्दोलन की चेतावनी
अजमेर. बी.के.कौल नगर रोड स्थित वर्धमान स्थानक मणिपुंज धर्मस्थल के बाहर इन दिनों ठेले व खोमचे वालों ने कब्जा जमा रखा है। इससे जैन समाज के श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मणिपुंज में जैन संतों का प्राय: निवास व विहार रहता है और नियमित धर्म आराधना होती है। परिसर की दीवार के पास विभिन्न प्रकार के ठेले व केबिन आदि लगा दी गई हैं। यहां नॉन वेज भी पकाया जाता है। इसकी दुर्गध से श्रद्धालू परेशान हो रहे हैं। मणिपुंज मेें रात्रि करीबन 11 बजे तक दर्शनार्थी आते रहते हैं। ठेले जमे रहने से संतों के रात्रि विश्राम धर्म-आराधना, तपस्या में बाधा आती है। इस मामले को लेकर नगर निगम तथा पुलिस को भी शिकायत की जा चुकी है लेकिन अब तक कार्यवाही नहीं हुई है।
इनका कहना है

जैन समाज का यह प्रमुख धर्म स्थल है। इसके बाहर अतिक्रमण होने से श्रद्धालू परेशान होते हैं। कई बार शिकायत की जा चुकी है। सम्बिन्धत विभाग ध्यान नहीं दे रहें है। समाज अब इस मामले को लेकर उग्र आन्दोलन करेगा।
रिखब चंद सिंगी, संघपति

ठेलों के कारण दुर्गंध व शोर-शराबे का वातावरण रहता है। लोग अपने वाहन मणिपुंज के द्वार पर ही खडे कर देते हैं इससे श्रद्धालुओं को परेशानी होती है।

ताराचंद करनावट, संयोजक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.