scriptPreparation for possession of the land of Chaurasiawas pond | चौरसियावास तालाब की जमीन पर कब्जे की तैयारी | Patrika News

चौरसियावास तालाब की जमीन पर कब्जे की तैयारी

शहर के इकलौते तालाब पर भू-माफिया की गिद्धदृष्टि, भराव क्षेत्र में बढ़ रहा अतिक्रमण, पंचशील क्षेत्र में सड़क से तालाब के मध्य डाला जा रहा मलबा

अजमेर

Published: July 04, 2022 05:44:58 pm

अजमेर. शहर के इकलौते चौरसियावास तालाब पर भू-माफिया की गिद्धदृष्टि है। तालाब के भराव क्षेत्र में अतिक्रमण बढ़ता जा रहा है। तालाब के पंचशीलनगर छोर पर सड़क से तालाब के दायरे तक मलबा डाला जा रहा है। कुछ लोगों ने तो तालाब के एक क्षेत्र में पक्के निर्माण कर लिए गए। जबकि दूसरी ओर भराव क्षेत्र को पाटने का काम किया जा रहा है।अजमेर शहर के मध्य चौरसियावास में पुराना तालाब स्थित है। तालाब के दो छोर पर अतिक्रमी धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे हैं। एक छोर पर पक्के निर्माण के बाद चारदीवारी व मिट्टी की दीवारें बनाकर अतिक्रमण किया जा रहा है तो दूसरे छोर पर जहां खुला क्षेत्र है वहां लोगों की ओर से मलबा डाला जा रहा है। सूत्रों की मानें तो कथित भू-माफिया इस क्षेत्र में मलबा डलवा रहे हैं। लोग भी खुलकर बोलने से कतरा रहे हैं। यहां करीब 200 से अधिक ट्रेक्टर ट्रॉली मलबा डाला गया है।
चौरसियावास तालाब की जमीन पर कब्जे की तैयारी
चौरसियावास तालाब की जमीन पर कब्जे की तैयारी
सालभर से भरा हुआ है पानी

चौरसियावास तालाब में वर्तमान में करीब 5 से 6 फीट तक पानी का भराव है। पिछले साल हुई बारिश के बाद तालाब में पानी कम जरूर हुआ लेकिन सूखा नहीं है।
अमृतं जलम् अभियान के तहत करवाई थी खुदाई

राजस्थान पत्रिका की ओर से अमृतं जलम् अभियान के तहत लगातार इस तालाब में समय-समय पर खुदाई व श्रमदान करवाया जाता रहा है।

पहले सिंचाई में आता था काम
ब्रिटिशकाल से तालाब का उपयोग पेयजल और फसलों की सिंचाई के लिए उपयोग लिया जाता रहा।

यहां जाता है ओवर फ्लो पानी

बरसात में तालाब के लबालब होने पर इसका पानी द्वारकानगर, वैशालीनगर, मानसरोवर कॉलोनी, श्रमजीवी कॉलेज-पेट्रोल पम्प के निकट नाले से होकर आनासागर झील में मिलता है।
फैक्ट फाइल

250 साल पुराना है तालाब

1.5 हजार बीघा में फैलाव

110 एमसीएफटी है भराव क्षमता

7 फीट से ज्यादा है पानी

10 फीट है तालाब की गहराई...
बन सकता है पर्यटन स्थलचौरसियावास तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाए तो पर्यटन स्थल बन सकता है। मलबा डालने से भराव क्षेत्र कम होगा। प्रशासन को ध्यान देना चाहिए।

पुखराज, माकड़वाली रोड निवासीऔर विकसित किया जाए
सिंचाई विभाग व अजमेर विकास प्राधिकरण को अतिक्रमण रोकने के साथ तालाब के हित में कड़ा निर्णय लेना चाहिए। तालाब को और विकसित किया जाए।अतीष माथुर, क्षेत्रीय पार्षद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar : आज 8वीं बार CM पद की शपथ लेंगे नीतीश कुमार, महागठबंधन के मंत्रिमंडल में होंगे 35 विधायकBihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल 2 बजे लेंगे शपथ, मंत्रिमंडल में बन सकते हैं 35 मंत्रीBihar Politics: नीतीश कुमार की 'अवसरवादी राजनीति' की गूंज कहां तकसीओडी: मॉडर्न वॉरफेयर 2 की सितंबर से होगी शुरुआतदुबई में बना भव्य हिंदू मंदिर, दशहरा पर अनावरण की तैयारीजेम्स वेब से कई गुना शक्तिशाली होगा मैगलन स्पेस टेलीस्कोप, 16 अरब की फंडिंग मिली23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुकMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोप
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.