बिना खर्च 120 किलोवाट का सोलर प्लांट लगाने की तैयारी

बिजली पर खर्च में कटौती करेगा राजस्व मंडल

4.15 रुपए की दर से 25 साल तक मिलेगी बिजली

By: bhupendra singh

Published: 18 Oct 2020, 09:09 PM IST

अजमेर.राजस्व मंडल revenue board अपने विद्युत उपभोग खर्च होने वाली राशि में कमी लाएगा। इसके लिए राजस्व मंडल में 120 किलोवाट का सोलर प्लांट solar plant रेक्सो मॉडल पर लगाया जाएगा। खास बात यह है कि रेक्सो मॉडल पर लगने वाले इस प्लांट को स्थापित करने पर राजस्व मंडल को कोई राशि खर्च नहीं करनी पड़ेगी। राजस्व मंडल को केवल अपने भवन की छत को निजी फर्म को सोलर पैनल लगाने के लिए देना होगा। फर्म स्वंय के खर्च पर यहां प्लांट लगाएगी। काम रील के जरिए करवाया जा रहा है। इसके लिए राजस्व मंडल ने एक कमेटी भी गठित की है। इस प्लांट से उत्पादित बिजली निजी कम्पनी राजस्व मंडल को 4.15 रूपए प्रति यूनिट की दर से 25 वर्ष तक उपलब्ध करवाएगी। वर्तमान में राजस्व मंडल को बिजली करीब 8.30 रुपए की दर से मिलती है। प्लांट लगने से इसकी दर आधी हो जाएगी।

प्रतिमाह सवा चार लाख का खर्च

राजस्व मंडल में दिनोदिन बिजली की खपत बढ़ रही है। राजस्व मंडल प्रतिमाह करीब 4.15 लाख रुपए बिजली बिल को चुकाने में ही खर्च कर रहा है। इसलिए बिजली खपत में कमी लाने के लिए सोलर प्लांट आवश्यक है। राजस्व मंडल का विद्युतभार 238 केवी का है। मंडल ने 150 केवी का सोलर प्लांट प्रस्तावित किया था लेकिन छत को 120 केवी के सोलर प्लांट के लिए उपयुक्त माना गया। पूर्व में राजस्व मंडल में बैट्री बैकअप के साथा सोलर प्लांट स्थापित किया गया था लेकिन नया भवन बनने के कारण इसे हटा दिया गया।

ज्यादा छीजत वाले क्षेत्रों में होगी मीटरों की सघन जांच:एमडी

वीसी के माध्यम से दिए 11 जिलों के अधिकारियों को निर्देश

बिजली चोरों के खिलाफ जारी रहेगा अभियान

अजमेर.अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक वी.एस.भाटी ने डिस्कॉम के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि बिजली चोरों के सख्ती से पेश आएं। जिन क्षेत्रों में छीजत अधिक है,वहां मीटरों की सघन जांच की जाए। निगम ने इस साल 103 प्रतिशत राजस्व और 13 प्रतिशत से कम छीजत का लक्ष्य तय किया है इसे हर हाल में पूरा करना है। प्रबन्ध निदेशक भाटी ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 11 जिलों के अधिकारियों को यह निर्देश दिए। भाटी ने डिस्कॉम में बढ़ती विद्युत चोरियों को रोकने के लिए जो विशेष अभियान चलाया जा रहा है उसके तहत फ ीडर अनुसार सघन सतर्कता जांच की जा कर विद्युत चोरी के प्रकरण दर्ज करें एवं किसी भी फ ीडर में लॉस अधिक ज्ञात होने पर सम्बंधित क्षेत्र के मीटरों की गहनता से जांच कराई जाए,क्योंकि इन दिनो ज्यादातर बिजली चोर आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर बिजली चोरी करते है। पिछले दिनों निगम की कार्यवाही में कई बिजली चोर ऐसे पकडे है जो मीटर में छेद कर एक्सटर्नल डिवाइस के माध्यम से बिजली चोरी कर रहे थे। विजिलेंस टीम और अधिक सक्रिय होकर बिजली चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करें और जुर्माना वसूली करे।

छीजत में13 प्रतिशत का लक्ष्य

भाटी ने लेखाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्रोविजनल बिलिंग न करे, कम से कम औसत बिलिंग करे। निगम की बिलिंग मासिक आधार पर हो। भाटी ने कहा कि इस मार्च तक निगम का टीएंडडी लॉस 15.30 प्रतिशत था। सितम्बर 2020 में टीएंडडी लॉस 14.45 प्रतिशत है। इसमें 1.45 प्रतिशत की कमी लाते हुए इसे 13 प्रतिशत से कम पर लाने का लक्ष्य रखा गया है।

शीघ्रता से करें कनेक्शन

एमडी ने सभी वृत्त अधिकारियों को लंबित घरेलू कनेक्शन,अघरेलू कनेक्शन,खराब व बंद मीटर बदलने,सिंगल व थ्री फेस,क्रॉस रीडिंग मीटर रीडिंग व सरकारी दफ्तरों के बकाया की जानकारी लेते हुए कहा कि जहां पर भी कनेक्शन लंबित है उन्हें शीघ्र ही जारी कराया जाए एवं साथ ही उपभोक्ताओं एवं आमजन को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति दी जाए। विद्युत उपभोक्ताओं को बिलिंग एवं विद्युत आपूर्ति संबंधी कोई भी समस्या आती है तो उसका निदान तुरंत करें। निगम के अधिकारी विद्युत संबंध विच्छेद व स्थाई विद्युत संबंध विच्छेद वाले उपभोक्ताओं से वसूली करें,जिन उपभोक्ताओं की 50 हजार रूपए अधिक की बिल राशि बकाया है उनसे वसूली तेज की जाए।

एमडी ने बिलिंग स्टेटस टीएंडडी लॉस,एटीएंडसी लॉस,कृषि कनेक्शन,घरेलू कनेक्शन पीएचईडी कनेक्शन औसत बिलिंग बंद एवं खराब मीटर राजस्व वसूली सतर्कता जांच समीक्षा कन्ज्यूमर टैगिंग,एनर्जी ऑडिट,फ ोटो रीडिंग विद्युत उपभोक्ताओं की शिकायतों के निस्तारण की स्थिति व सरकारी दफ्तरों के बिजली बिलों के बकाया सहित अनेक महत्वपूर्ण विषयों पर वृत्तवार सभी अधिकारियों से जानकारी ली।

read more: राजस्व मंडल में तीन महीने में एक भी मुकदमे का नहीं हुआ फैसला

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned