Procession: कोई धूमधाम ना भीड़, यूं निकली भगवान जगन्नाथ की यात्रा

जगदीश मंदिर ऋषि घाटी में भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा विराजमान रहेंगे।

By: raktim tiwari

Published: 24 Jun 2020, 07:55 AM IST

अजमेर. अग्रवाल पंचायत मारवाड़ी धड़े के तत्वावधान में कोविड-19 के चलते भगवान जगन्नाथ की प्रतीकात्मक यात्रा निकाली गई। जगदीश मंदिर ऋषि घाटी में भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा विराजमान रहेंगे।

श्री अग्रवाल पंचायत मारवाड़ी धड़े के अध्यक्ष दीपचन्द श्रीया ने बताया कि भगवान जगन्नाथ यात्रा महोत्सव प्रतिवर्ष मनाया जाता है। जगदीश मंदिर से भगवान जगन्नाथ, सुभद्रा और बलभद्र की रथयात्रा निकाली जाती है। इसमें झांकियां, ऊंट, घोड़़े, पालकी, ढोल-ढमाके भी साथ चलते हैं।

इस बार कोविड-19 संक्रमण के चलते रथयात्रा का आयोजन नहीं किया गया। भगवान जगन्नाथ की प्रतिकात्मक यात्रा निकाली गई। अब 30 जून तक भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्रा ऋषि घाटी स्थित मंदिर में विराजमान रहेंगे। यहां रोज श्रृंगार और अटका प्रसाद का भोग लगाया जाएगा।

Read More: CBSE EXAM: परीक्षाएं होगी या नहीं, सीबीएसई देगा सुप्रीम कोर्ट में जवाब

कॉलेज में सोशल डिस्टेंसिंग से परीक्षा और पढ़ाई चुनौती

रक्तिम तिवारी/अजमेर. कोरोना संक्रमण ने कॉलेज और विश्वविद्यालयों की चिंता बढ़ा दी है। जयपुर, जोधपुर उदयपुर के विश्वविद्यालयों सहित राज्य के बड़े कॉलेज में हजारों विद्यार्थियों की परीक्षाएं और पढ़ाई कराना आसान नहीं है। ऐसे में संस्थान नवाचार योजनाएं बनाने में जुटे हैं।

कोराना संक्रमण के कारण स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में हालात विपरीत हैं। सत्र 2020-21 की शुरुआत जुलाई में हो जाएगी। सबसे ज्यादा दिक्कतें बकाया परीक्षाओं के आयोजन कक्षाओं के संचालन की हैं।

जीसीए जैसे बड़े कॉलेज में चिंता
अजमेर, कोटा, बीकानेर, सीकर के सरकारी कॉलेज बड़े हैं। इनमें 4 से 8 हजार से ज्यादा विद्यार्थी पढ़ते हैं। सोफिया, दयानंद कॉलेज जैसे निजी संस्थानों में भी 1700 से 2500 तक विद्यार्थी हैं। कला, वाणिज्य, विज्ञान संकाय में प्रथम, द्वितीय और तृतीय वर्ष में सौ-सौ विद्यार्थियों के सेक्शन हैं। इसी तरह जोधपुर के जेएनवी, उदयपुर के एमएल सुखाडिय़ा और राजस्थान विवि जयपुर में 10 से 15 हजार विद्यार्थी पढ़ते हैं। इतने विद्यार्थियों को एक साथ बैठाना आसान नहीं है।

संस्थान करेंगे ये नवाचार
-सभी कॉलेज में विषयवार नए सेक्शन
-छात्र-छात्राओं की कक्षाएं ऑनलाइन या ऑफलाइन
-ई-लेक्चर, वीडियो, ई-कंटेंट पर विशेष ध्यान
-विद्यार्थियों को ऑड-ईवन फार्मूले पर बुलाने की योजना
-सुबह-शाम की शिफ्ट में कॉलेज संचालन
-

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned