scriptPublic function in Patel Maidan now difficult, looking for new place | पटेल मैदान में सार्वजनिक समारोह अब मुश्किल, तलाश रहे नई जगह | Patrika News

पटेल मैदान में सार्वजनिक समारोह अब मुश्किल, तलाश रहे नई जगह

कारण : स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में एस्ट्रोटर्फ व अन्य निर्माण जारी
कवायद : प्रशासन ढूंढ रहा वैकल्पिक स्थान

अजमेर

Updated: May 03, 2022 09:27:35 pm

भूपेन्द्र सिंह

अजमेर. शहर में अब स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस और दशहरे का आयोजन ऐतिहासिक सरदार वल्लभ भाई पटेल मैदान में होना मुश्किल है। दशहरे पर रावण दहन भी नहीं हो सकेगा। इसकी वजह स्मार्ट सिटी के तहत पटेल मैदान में बन रहा एस्ट्रोटर्फ व अन्य निर्माण हैं। दशकों तक यह सभी आयोजन पारम्परिक रूप से शहर के बीचोंबीच पटेल मैदान में होते रहे हैं लेकिन अब स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के चलते पटेल मैदान में निर्माण कार्य जारी है। यहां दुकानें भी बनाई जा रही हैं। ऐसे में यहां अब सार्वजनिक तथा राजकीय समारोह के लिए स्थान नहीं है। नवरात्रि पर गरबे का भी आयोजन नहीं हो सकेगा। पटेल मैदान और आजाद पार्क शहर के बीचो बीच होने के साथ ही कलक्ट्रेट, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन के भी नजदीक है। यहां पार्किग की भी पर्याप्त सुविधा है। शहर में इतनी बड़ी जगह और नहीं हैं जहां सार्वजनिक तौर पर हजारों लोग एकत्रित हो सके। ऐसे में शहर में धार्मिक, राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए सरकार और जिला प्रशासन को नई जगह तलाशनी होगी।
ajmer
ajmer
नाम का आजाद पार्क

पटेल मैदान के पास ही आजाद पार्क है लेकिन अब सिर्फ नाम का ही आजाद रह गया है। यहां स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स और स्वीमिंग पूल का निर्माण किया जा रहा है। यहां भी अब जगह नहीं बची है। इसके चलते अब यहां नवरात्र में गरबा, मेले, प्रदर्शनी,शादियां और सभाएं भी नहीं हो पाएंगी।
पुलिस लाइन मैदान नजर में

पटेल मैदान में सार्वजनिक समारोह का आयोजन मुश्किल में देख अब जिला प्रशासन नई जगह तलाश रहा है। इसके लिए चन्दवरदाई स्टेडियम को उपयुक्त माना गया है लेकिन इसकी शहर से दूरी तथा शहर के अंतिम छोर पर होना बाधक साबित हो रहा है। जिला प्रशासन पुलिस लाइन मैदान में भी 15 अगस्त व 26 जनवरी का सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित कर सकता है।
कई रैलियों और सभाओं का रहा गवाह

पटेल मैदान और आजाद पार्क कई ऐतिहासिक रैलियों और सभाओं के गवाह रहे हैं। यहां पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी,राज्य के मुख्यमंत्री सहित कई बड़ी राजनीतिक हस्तियां यहां अपनी सभाएं कर चुकी हैं। हजारों लोग इन सभाओं में शामिल हो चुके हैं। लेकिन अब सार्वजनिक आयोजनों अब राजनीतिक सभाओं का पटेल मैदान और आजाद पार्क में आयोजन इतिहास के रूप में याद किया जाएगा।
दशहरे में जुटती है हजारों की भीड़

प्रतिवर्ष दशहरे पर शहर के हजारों लोग पटेल मैदान में रावण,कुम्भकर्ण और मेघनाथ के पुतले का दहन देखने आते हैं। यहां रामलीला का संक्षिप्त मंचन भी किया जाता है लेकिन रावण दहन के लिए अब नगर निगम को भी दूसरी जगह तलाशनी होगी। दशकों पहले रावण दहन खारीकुई रावण की बगीची में होता था लेकिन जगह कम पड़ने के कारण पटेल मैदान में होने लगा।
बस स्टैंड और सब्जीमंडी भी बना पटेल मैदान
जानकारों का कहना है कि पुष्कर मेले और उर्स के दौरान पटेल मैदान से विभिन्न स्थानों के लिए बसों का संचालन किया जाता था। बाद में इसे फुटबॉल तथा हॉकी मैदान के रूप में उपयोग मेें लिया जाने लगा। दशकों से यहां सरकारी समारोह तथा दशहरे पर रावण दहन का भी आयोजन होने लगा। प्रतिदिन यहां बड़ी संख्या में लोग घूमने और खेलने भी आते हैं। कोरोना के दौरान इसमें सब्जी मंडी भी लगाई।
इनका कहना है
पटेल मैदान मेें स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट चल रहे हैं। जिला कलक्टर के निर्देश पर राजकीय कार्यक्रम के लिए नया विकल्प तलाशा जा रहा है। अभी जगह फाइनल नहीं हुई है।
कैलाश चंद शर्मा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) अजमेर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.