scriptPushkar Sarovar: Eradicating pollution just by announcement | पुष्कर सरोवर: सिर्फ घोषणा से मिटा रहे प्रदूषण | Patrika News

पुष्कर सरोवर: सिर्फ घोषणा से मिटा रहे प्रदूषण

करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था एवं हजारों परिवारों की लाइफ लाइन कहे जाने वाले पुष्कर सरोवर में जल प्रदूषण लगातार बढ़ रहा है। लेकिन अफसर संजीदा नहीं और सरकार, जनप्रतिनिधियों व प्रशासन को इससे कोई सरोकार नहीं।

अजमेर

Published: December 03, 2021 02:38:49 am

युगलेश शर्मा.

अजमेर. सभी तीर्थ करने के बाद पुष्कर सरोवर में स्नान नहीं करने पर धार्मिक यात्रा अधूरी मानी जाती है। यही कारण है कि पुष्कर सरोवर में स्नान करने के लिए प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु आते हैं। साथ ही सरोवर पुरोहित, व्यवसायी, किसान परिवारों की लाइफ लाइन भी है। इन सबके बावजूद प्रदूषित होते पुष्कर सरोवर के जल को लेकर कोई गंभीरता, सोच और संजीदगी नजर नहीं आती। सरोवर श्रद्धालुओं के लिए स्वयं की पवित्रता बचाने को मोहताज है। गंदे पानी की आवक बर्षों से बनी हुई है। लेकिन संबंधित पक्षों के प्रयास सिर्फ थोथी घोषणाओं तक ही सीमित हैं।
पुष्कर सरोवर: सिर्फ घोषणा से मिटा रहे प्रदूषण
पुष्कर सरोवर: सिर्फ घोषणा से मिटा रहे प्रदूषण
कोई भी हो सरकार. .सभी बयानवीर

पुष्कर सरोवर को प्रदुषण मुक्त करने के लिए पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने चार करोड़ दस लाख रुपये लागत की योजना बनाई लेकिन बाद में यह ठंडे बस्ते में चली गई। वर्तमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी पिछले बजट में सरोवर में गंदे पानी की आवक रोकने के लिए डीपीआर बनाने की घोषणा की। यह कार्य भी अभी तक नहीं हुआ। उधर, खास बात यह भी कि स्थानीय विधायक सुरेश सिंह रावत भाजपा से लगातार दूसरी बार चुने गए हैं और उन्हीं की पार्टी के शासन में चार करोड़ की योजना भी बनाई गई थी। ना तो वे भाजपा और ना ही मौजूदा राज में योजना पर कुछ काम करा सके। प्रदूषण का कारण
बरसाती पानी के साथ नृसिंह घाट, वराह घाट, जयपुर घाट आदि पर गंदगी बिखरी रहती है। बड़ी बस्ती, परिक्रमा मार्ग, हाईब्रिज मार्ग से कस्बे का सारा गंदा पानी, प्लास्टिक आदि सीधे पुष्कर सरोवर में जाते हैं। पुष्कर सरोवर के घाटों पर कबूतरों के लिए अनाज, मछलियों के लिए खाद्य पदार्थ, तेल के लड्डू, चावल की खील आदि डाली जाती है।
इन उपायों की दरकार

-गंदे व बरसाती पानी की जावक रोकने की ठोस योजना बनाकर क्रियान्विति हो।
-सीवरेज लाइनें दुरुस्त कर एसटीपी से जोड़ा जाए।-पूरण कुंड में गंदे जल का एकत्रीकरण खत्म हो।-घाटों पर नियमित सफाई हो।
इनका कहना है
पूर्व सीएम वसुन्धरा राजे ने चार करोड़ की योजना तथा सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट की आठ करोड़ की योजना बनाई जो कंाग्रेस सरकार बनने के बाद से अधूरी है। केन्द्र से मिलकर सरोवर का जल गोल्डन टेम्पल की तरह साफ कराने की योजना स्वीकृत कराई जाएगी। इस बारे में जलशक्ति विभाग के मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत से भी बात हुई है।
- सुरेश सिंह रावत, विधायक पुष्कर।

सरोवर में जल प्रदूषण रोकने के लिए संबधित अधिकारियों से बात कर शीघ्र समाधान के प्रयास किए जाएंगे।

-नसीम अख्तर, प्रदेश उपाध्यक्ष कांगे्रस।
सरोवर में गंदे पानी की जावक रोकने की ठोस योजना बने। घाटों पर नियमित सफाई हो, अनाज ब्रिकी पर पाबंदी लगे, ऑक्सीजन प्लांट शुरू किया जाए। जल शुद्धि के उपाय कराना जरूरी है
-कृष्ण गोपाल वशिष्ठ
पुजारी, ब्रह्मा मंदिर पुष्कर।

हजारों श्रद्धालुओं की आस्था के केन्द्र व पुष्कर की लाइफ लाइन पुष्कर सरोवर में बढ़ रहा जल प्रदूषण बहुत चिंताजनक है। इसे दूर करने के लिए पुष्कर सरोवर में बीसलपुर का पानी डालने के साथ ही सीवरेज व्यवस्था दुरुस्त की जानी चाहिए।
- कुलदीप पाराशर
अध्यक्ष, बार एसोसिएशन पुष्कर।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानापूर्व CM अशोक चव्हाण ने किया खुलासा: BJP सांसद मुरली मनोहर जोशी ने रिपोर्ट में खुद कहा 'PM मोदी सेना के साथ खिलवाड़ कर रहे'NeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछPandit Jasraj Cultural Foundation: संगीत के क्षेत्र में भी होना चाहिए तकनीक और आईटी का रिवॉल्यूशन: PM ModiCorona: गुजरात में कोरोना को मात दे चुके हैं 10 लाख से अधिक लोगकाशी विश्वनाथ मॉडल पर बनेगा महांकाल कॉरीडोर, सिंहस्थ-28 पर अभी से कामCovid-19 Update: महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,948 नए मामले, 103 मरीजों की मौत हुई।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.