scriptRajasthan Paper Leak : मास्टर माइंड शेरसिंह को ED ने दिया करोड़ों का झटका, बेशकीमती जमीन पर लिया कब्जा | Rajasthan Paper Leak Case : ED takes possession of Sher Singh valuable land | Patrika News
अजमेर

Rajasthan Paper Leak : मास्टर माइंड शेरसिंह को ED ने दिया करोड़ों का झटका, बेशकीमती जमीन पर लिया कब्जा

Rajasthan Paper Leak : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने वरिष्ठ अध्यापक (माध्यमिक शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा 2022 में पेपर लीक मामले के मास्टर माइंड रहे अनिल कुमार मीणा उर्फ शेरसिंह के भूणाबाय में स्थित बेशकीमती भूखण्ड पर कब्जे की कार्रवाई की।

अजमेरMar 13, 2024 / 02:06 pm

Rakesh Mishra

rajasthan_paper_leak.jpg
Rajasthan Paper Leak : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने वरिष्ठ अध्यापक (माध्यमिक शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा 2022 में पेपर लीक मामले के मास्टर माइंड रहे अनिल कुमार मीणा उर्फ शेरसिंह के भूणाबाय में स्थित बेशकीमती भूखण्ड पर कब्जे की कार्रवाई की। कार्रवाई में स्थानीय पुलिस की मदद ली गई। जानकारी अनुसार देर रात ईडी की टीम अजमेर पहुंची। जिला पुलिस के रिजर्व पुलिस लाइन से जाप्ता मांगा गया। इसके बाद जयपुर ग्रामीण, चौमू कालाडेरा स्थित दोला का वास निवासी अनिल कुमार मीणा उर्फ शेर सिंह के जयपुर रोड, भूणाबाय स्थित बेशकीमती भूखण्ड को प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने कब्जे में लिया। पड़ताल में सामने आया कि भूखण्ड पर पूर्व में एसओजी अटैच की कार्रवाई कर चुकी थी।
500 मीटर पर आरपीएससी
ईडी ने अनिल मीणा उर्फ शेर सिंह के जिस भूखण्ड पर कब्जा लिया। वह आरपीएससी से महज 500 मीटर की दूरी पर है। जयपुर रोड पर प्राइम लोकेशन पर स्थित भूखण्ड की कीमत करोड़ों में आंकी गई है।
प्रकरण का मास्टर माइंड
आरपीएससी द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर लीक प्रकरण 2022 में जयपुर चौमू निवासी अनिल कुमार मीणा उर्फ शेरसिंह मास्टर माइण्ड की भूमिका में था। उसे एसओजी के तत्कालीन एसपी विकास सांगवान व टीम ने उड़ीसा से गिरफ्तार किया था। अनिल मीणा वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा 2022 में उदयपुर बेकरिया थाने में दर्ज प्रकरण में नामजद था। प्रकरण एसओजी को ट्रांसफर होने के बाद एक लाख के ईनामी वांछित अपराधी अनिल उर्फ शेरसिंह को उड़ीसा से पकड़ा गया था।
यह है कानून
आरपीएससी की किसी परीक्षा में नकल और पेपर लीक प्रकरणों की रोकथाम के लिए नकल विरोधी कानून ‘राजस्थान सार्वजनिक परीक्षा(भर्ती में अनुचित साधनों की रोकथाम के अध्याय) संशोधन विधेयक 2023’ लागू किया। कानून के तहत आरोपी को आजीवन कारावास, प्रोपर्टी अटैचमेंट व 10 करोड़ रुपए तक के जुर्माने का प्रावधान है।

Hindi News/ Ajmer / Rajasthan Paper Leak : मास्टर माइंड शेरसिंह को ED ने दिया करोड़ों का झटका, बेशकीमती जमीन पर लिया कब्जा

ट्रेंडिंग वीडियो