rajasthan reet exam 2018 : रीट परीक्षा देने वाले लाखों अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी, पढ़ें इस बार क्या होगा खास

Suresh Singh lalwani

Publish: Oct, 13 2017 02:51:52 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
rajasthan reet exam 2018 : रीट परीक्षा देने वाले लाखों अभ्यर्थियों   के लिए खुशखबरी, पढ़ें इस बार क्या होगा खास

Rajasthan Reet exam 2018 : REET परीक्षा 2018 इस बार बेहद खास होगी।अभ्यर्थियों के लिए राहत की बात यह है कि इसमे नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं है।

अजमेर . Rajasthan Reet exam 2018 : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित रीट परीक्षा 2018 इस बार बेहद खास होगी।अभ्यर्थियों के लिए राहत की बात यह है कि इसमें नेगेटिव मार्र्किंग नहीं होगी।राज्य अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET) के प्रवेश-पत्र 1 फरवरी से ऑनलाइन उपलब्ध होंगे।

 

 

अभ्यर्थियों को यह प्रवेश-पत्र शिक्षा बोर्ड की वेबसाइट से डाउनलोड करने होंगे। परीक्षा 11 फरवरी को पूरे प्रदेश में एक साथ आयोजित होगी। परीक्षा बहुविकल्प पद्धति से होगी और 150 मिनट में 150 सवाल हल करने होंगे।माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की ओर से आयोजित की जाने वाली रीट के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 6 नवंबर से प्रारंभ होगी और 30 नवंबर को आवेदन की अंतिम तिथि होगी। बोर्ड प्रशासन ने यह स्पष्ट किया है कि (REET) के लिए ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किए जाएंगे। इसके अलावा किसी भी माध्यम से आवेदन पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे।

 

ढाई घंटे का समय
रीट के दोनों स्तर की परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को ढाई घंटे मिलेगे। इस दरमियान उन्हें 150 सवाल हल करने होंगे। प्रत्येक सवाल का एक अंक निर्धारित है। अभ्यर्थियों को प्रत्येक सवाल के चार विकल्प मिलेंगे। उन्हेंं अपनी ओएमआर शीट में सही उत्तर दर्ज करना होगा। परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं है।

 

प्रत्येक परीक्षा में पांच खंड
(REET) की प्रथम और द्वितीय स्तर की परीक्षाओं में पांच-पांच खण्ड होंगे। कक्षा एक से पांचवीं तक के अध्यापकों के लिए प्रथम स्तर की परीक्षा में पहले खंड में बाल विकास एवं शिक्षण विधियां - 30 सवाल , द्वितीय खंड में भाषा प्रथम- 30 सवाल, तृतीय खंड भाषा द्वितीय - 30 सवाल, चतुर्थ खण्ड में गणित- 30 सवाल और पांचवें खंड में पर्यावरण अध्ययन के 30 सवाल होगे।

 

इसी प्रकार कक्षा 6 से आठवीं तक के अध्यापको के लिए द्वितीय स्तर की परीक्षा में प्रथम खण्ड बाल विकास एवं शिक्षण विधियां- 30 सवाल, द्वितीय खंड में भाषा प्रथम 30 सवाल, तृतीय खंड भाषा द्वितीय- 30 सवाल, चतुर्थ खंड में गणित एवं विज्ञान विषय- 60 सवाल अथवा सामाजिक अध्ययन विषय- 60 सवाल अथवा अन्य विषय -60 सवाल होंगे। प्रत्येक सवाल के लिए एक अंक निर्धारित है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 2011 ,2012 में आरटेट अध्यापक पात्रता के लिए ही आरटेट की परीक्षा आयोजित कर चुका है । मौजुदा भाजपा सरकार ने आरटेट को समाप्त कर उसकी जगह रीट को लागू किया था। शिक्षा बोर्ड ने इसके तहत फरवरी 2016 में रीट परीक्षा ली थी , इसके माध्यम से राज्य में 15 हजार अध्यापकों की भर्ती की गई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned