REET Mask: सुबह से दिया सबका साथ, यूं छोडऩे पड़े मास्क

पूरे राज्य में केंद्र के भीतर ही सर्जिकल मास्क दिए गए। लिहाजा अभ्यर्थियों को अपने मास्क केंद्र के बाहर ही छोडऩे पड़े।

By: raktim tiwari

Published: 26 Sep 2021, 06:20 PM IST

सुबह से दिया सबका साथ, यूं छोडऩे पड़े मास्क

अजमेर. रीट परीक्षा रविवार को समाप्त हो गई। दो चरणों की परीक्षा के बाद राज्यभर से लाखों अभ्यर्थी घरों की तरफ लौट रहे हैं। जिन मास्क को सुबह से दोपहर तक अभ्यर्थियों ने लगाए रखा, उन्हें केंद्रों पर यूं ही लावारिस छोडऩा पड़ा। किसी ने लोहे की जाली तो किसी ने पेड़ों पर मास्क टांगे।
अभ्यर्थियों को दरअसल केंद्रों में अपने मास्क ले जाने की अनुमति नहीं थी। पूरे राज्य में केंद्र के भीतर ही सर्जिकल मास्क दिए गए। लिहाजा अभ्यर्थियों को अपने मास्क केंद्र के बाहर ही छोडऩे पड़े। किसी ने पेड़ों पर तो किसी ने लोहे की जालियों अथवा गाड़ी में मास्क छोड़ा।

एसपी जगदीशचन्द्र शर्मा बताया कि 26 सितम्बर को दो पारी में राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा(रीट) हुई जिले में 90 हजार परीक्षार्थी व उनके परिजन पहुंचे। उसके लिए पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किया गया। श्

सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त
एसपी ने अतिआवश्यक कार्य होने पर ही बाहर निकलने और व्यापारी वर्ग से खाने-पीने की वस्तुओं को छोड़कर अन्य प्रतिष्ठान बंद रखने का भी अनुरोध किया। परीक्षार्थी के खाने, ठहरने के इंतजाम प्रशासन, स्वयंसेवी संस्था, सामाजिक संगठन, व्यापार मंडलों ने नि:शुल्क किए गए। परीक्षार्थी व उनके परिजन बस व ट्रेन की छत पर यात्रा ना करें इसको लेकर पुलिस सतर्क है। खासतौर पर हजारीबाग, रोडवेज बस स्टैंड, रीजनल कॉलेज और अन्य अस्थाई बस स्टैंड पर सुरक्षा
इंतजाम किए गए हैं।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned