रेजीडेंट चिकित्सकों ने किया कार्य बहिष्कार

जेएलएन मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी सेवाएं भी प्रभावित

By: CP

Published: 03 Dec 2019, 12:06 PM IST

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट चिकित्सकों ने भी मंगलवार को सुबह 9 बजे से कार्य बहिष्कार कर दिया है। आपातकालीन इकाई के बाहर रेजीडेंट चिकित्सकों ने राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विभिन्न मांगों के माने नहीं जाने तक कार्य बहिष्कार की घोषणा की। इसके चलते मेडिकल कॉलेज के तीन चिकित्सालयों की सेवाएं प्रभावित हो गई हैं।

Read More :एलर्जी, कोलेस्ट्रॉल दूर भगाने में कारगर औषधियां
अजमेर के जेएलएन अस्पताल के बाहर रेजीडेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. देवराज राव के नेतृत्व में सभी रेजीडेंट चिकित्सक पहुंचे और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। डॉ. देवराज ने बताया कि पिछले एक माह से रेजीडेंट चिकित्सकों की चार सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध जताया जा रहा था। 15 दिनों पूर्व चिकित्सा मंत्री से वार्ता होने पर उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार रेजीडेंट की मांगों पर सकारात्मक रुख रखते हुए निस्तारण करने का प्रयास कर रही है, इसके लिए 15 दिनों का समय दिया जाए। मगर कोई समाधान नहीं हुआ। प्रदेशभर की रेजीडेंट यूनियन के साथ सोमवार को वार्ता विफल होने के बाद प्रदेश की सभी मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट यूनियन ने मंगलवार से कार्य बहिष्कार का निर्णय ले लिया। इसके तहत इमरजेंसी सेवाएं भी नहीं दी जाएगी। रेजीडेंट हड़ताल के चलते कॉलेज प्रिंसीपल डॉ. वीर बहादुर सिंह एवं अस्पताल अधीक्षक डॉ. अनिल जैन की ओर से सीनीयिर रेजीडेंट एवं फैकल्टी की ड्यूटी लगाई है। वहीं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अजमेर जोन के संयुक्त निदेशक डॉ. गजेन्द्र सिंह सिसोदिया से भी संभाग भर से प्रमुख चिकित्सकों की ड्यूटी लगाने को कहा गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned