अस्पताल में संक्रमण का खतरा

अस्पताल में  संक्रमण का खतरा

Chandra Prakash Joshi | Updated: 26 Jul 2019, 10:45:17 PM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

मरीजों के परिजन में नहीं जागरूकता, गार्ड भी लापरवाह

अजमेर. जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में हर महीने लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद सफाई व्यवस्था माकूल नहीं हैं। अस्पताल में दो समय सफाई के दावा भी हवा होता नजर आ रहा है। अस्पताल (Hospital)के गलियारे हों चाहें वार्डों में जाने वाली सीढिय़ां या रैम्प इनके कोनों एवं दीवारों पर पान-गुटका एवं तम्बाकू के दाग स्वच्छता अभियान की पोल खल रहे हैं। दीवारों पर भले ही जुर्माना अंकित हों मगर कागजों व रिकॉर्ड में सफाई के नाम पर कोई जुर्माना नहीं वसूला जाता है।

संभाग के सबसे बड़े अस्पताल में सफाई व्यवस्था के हालात भू-तल पर बने वार्ड, परिसर में कुछ स्तर पर दुरुस्त हैं मगर प्रथम, द्वितीय मंजिल पर बने वार्ड, गलियारे में सफाई व्यवस्था चरमराई हुई है। यहां कोनों, गैलरी की खिड़कियों (vindo)पर पान-गुटकों के पीक के निशान लगे हैं। कचरा पात्रों (dustbin)में कई जगह कचरा भरा हुआ है, नालियों के पास डिस्पोजल, बचा खाना-सब्जियां आदि डालकर मरीजों के परिजन भी गंदगी करने से बाज नहींआ रहे हैं। इसकी वजह है कि कई जगह दूर-दूर तक डस्टबिन नहीं लगे हुए हैं। कहीं हैं तो उनमें कचरा भरा हुआ है। सफाई के लिए एक फर्म को 6 लाख से अधिक का टेण्डर भी है मगर सफाई व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ है।

यहां हैं संक्रमण (infection) का खतरा

शिशु रोग विभाग के सीढिय़ों के नीचें गंदगी पसरी हैं, दवा काउंटर के पास, फिमेल वार्ड की गैलरी, प्रशासनिक भवन के सामने पोर्च, यहां बैठकर लोग खाना खाते हैं और पास में नाले खुले पड़े हैं। ईएनटी वार्ड से पहले प्याऊ के पास गंदगी पसरी है, कार्डियोलोजी विभाग की ऊपर जाने वाले रैंप के कोनों, खिड़कियों पर गंदगी व पीक के निशान, सर्जरी विभाग की ओपीडी के पास गंदगी संक्रमण को बढ़ावा दे सकती है।

मरीजों से अधिक अटेंडेंट का प्रवेश, कोई रोकटोक नहीं

अस्पताल की सफाई व्यवस्था में सबसे बड़ी बाधा मरीजों के अटेंडेंट की भी आ रही है। गैलरी में बैठकर खाना खाने, बची सब्जी आदि को वहीं पास के कोने, नाली में डाल कर रवाना हो जाते हैं। गैलरियों में लोग खाना खाकर वहीं गंदगी फैलाते मिले। ना जुर्माना, ना कार्रवाईसफाई व्यवस्था को लेकर किसी तरह का जुर्माना अस्पताल प्रशासन की ओर से नहीं लगाया जा रहा है। दीवारों पर 100 रुपए जुर्माना राशि लिखी है मगर गंदगी फैलाने वालों पर जुर्माना कई समय से नहीं लगाया गया है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned