RPSC: नई तकनीक और खास परीक्षाओं के लिए जाने जाएंगे उप्रेती

आयोग में हुई फुल कमीशन की बैठक।

By: raktim tiwari

Published: 08 Oct 2020, 03:31 PM IST

अजमेर.

राजस्थान लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष दीपक उप्रेती का कार्यकाल 14 अक्टूबर को पूरा होगा। उनके कार्यकाल की संभवत: आखिरी फुल कमीशन की बैठक हुई। इसमें सदस्यों ने उप्रेती के कार्यकाल को आयोग के लिहाज से बेहतरीन बताया।

दीपक उप्रेती ने आयोग के लिए सिररर्द बनी सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा और साक्षात्कार कराए। आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती-2018 की प्रारंभिक-मुख्य परीक्षा और परिणाम, प्रधानाचार्य, प्राध्यापक-व्याख्याता भर्ती, कृषि, तकनीकी शिक्षा और अन्य विभागों की भर्तियों को अंजाम दिया। उनके कार्यकाल में साक्षात्कार प्रक्रिया में नवाचार हुआ। अभ्यर्थियों को परीक्षा और साक्षात्कार के साथ-साथ पहली बार शैक्षिक योग्यता के अंकों का भी फायदा मिला।

फुल कमीशन की बैठक
आयोग में फुल कमीशन की बैठक हुई। इसमें कॉलेज व्याख्याता, आरएएस भर्ती-2018 सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा की गई। अध्यक्ष दीपक उप्रेती, सदस्य डॉ. शिवसिंह राठौड़, राजकुमारी गुर्जर और डॉ. रामूराम राइका बैठक में शामिल हुए।

कॉलेज में खुलेंगे ये सेंटर, मिलेगा स्टूडेंट्स को गाइडेंस

अजमेर. कॉलेज विद्यार्थियों को रोजगार परामर्श और कॅरियर संबंधित मार्गदर्शन मिलेगा। इसके लिए राज्य के सभी सरकारी कॉलेज में राजी गांधी विद्यार्थी सेवा केंद्र खोले जाएंगे। इन केंद्रों की स्थापना के लिए कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने सभी प्राचार्यों को पत्र भेजा है।

संयुक्त निदेशक डॉ. दीपक मेहरा ने बताया कि सरकार ने स्नातक और स्नातकोत्तर कॉलेज के विद्यार्थियों को कॅरियर मार्गदर्शन, रोजगार परामर्श, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी, विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिलों और अकादमिक चर्चा शुरू करने को कहा है।

यूं करेंगे काम
इसके लिए सभी कॉलेज में राजीव गांधी विद्यार्थी सेवा केंद्रों की स्थापना की जाएगी। प्राचार्यों को कॉलेज परिसर में सेवा केंद्र शुरू करने होंगे। इनमें परामर्शदाता की नियुक्ति भी करनी होगी। इन केंद्रों पर विद्यार्थियों को ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन परामर्श-मार्गदर्शन दिए जाएगा।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned