तीर्थनगरी में दो दिन तक रहेगा संत-महंतों का जमावड़ा , इसलिए आएंगे दूर-दूर से संत यहां

https://www.patrika.com/ajmer-news/

By: सोनम

Published: 18 Dec 2018, 02:09 PM IST

पुष्कर . शांतानंद उदासीन आश्रम में स्वामी शांतानंद व स्वामी हिरदाराम का दो दिवसीय जीवन दर्शन महोत्सव संत-महात्माओं के सान्निध्य में आयोजित होगा। समारोह में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर, चंद्रलाल लालचंदाणी शामिल होंगे। गौर अजमेर आगमन पर ईश्वर मनोहर उदासीन आश्रम, अजयनगर में पूजा अर्चना करेंगे। इसके बाद दरगाह जियारत तथा पुष्कर पूजन व समारोह में सम्मिलित होने का कार्यक्रम है।

 

चार्टर प्लेन से आएंगे संत-महंत

आयोजन में भाग लेने के लिए काष्णिक महामंडलेश्वर स्वामी गुरशरणानंद रमणरेती 19 दिसम्बर को चार्टर प्लेन से किशनगढ एयरपोर्ट पहुंचेंगे। इनके अलावा तपस्वी बाबा कल्याणदास अमरकंटक, आनन्द भास्करानन्द गुरु गंगेश्वर धाम, महामंडलेश्वर कपिल मुनि हरेराम आश्रम हरिद्वार, महामंडलेश्वर हंसराम हरिशेवा धाम भीलवाड़ा, महामंडलेश्वर हरिप्रकाश हरिद्वार, महंत मोहनदास मुंबई, महंत रामेश्वर मुनि विधाता (पंजाब), स्वामी ज्ञानानन्द तीर्थ (युवाचार्य) भानपुरा, महंत लक्ष्मण दास पंचमुखी दरबार भीलवाड़ा, महंत स्वरूपानंद (पंजाब) डॉ. स्वामी देवेश्वरानंद हरिद्वार, महंत रूपेंद्र प्रकाश हरिद्वार, स्वामी उमेश नाथ उज्जैन, महंत संतोषदास इंदौर, महंत आसनदास एवं महंत अर्जुनदास उल्लासनगर, महंत आत्मदास उज्जैन, महंत श्याम सुन्दर दास ओंकारेश्वर, महंत स्वरूपदास अजमेर, स्वामी साधुराम हालाणी दरबार अजमेर, महंत रामदास जबलपुर, महंत खिमियादास एवं, महंत ईश्वरदास सतना, स्वामी युधिष्ठिरलाल रायपुर, महंत स्वरूपदास खंडवा, महन्त संतोषदास सतना, महंत गणेशदास भीलवाड़ा, महंत श्यामदास किशनगढ़, स्वामी साजनदास उल्लासनगर, महंत दर्शनदास गांधीधाम, महंत पुरुषोत्तम दास सतना, स्वामी चांडूराम लखनऊ, स्वामी लखमीचंद गिरी भोपाल, महंत माधवदास इंदौर, स्वामी दीपक लाल भावनगर, महंत बाबू गिरी भीलवाड़ा, स्वामी हंसदास रीवां भी आयोजन में शिरकत कर आशीर्वचन प्रदान करेंगे।

 

मूर्ति व सत्संग हॉल का अनावरण

मूर्ति सत्संग हॉल का अनावरण व संत समागम जीवन दर्शन महोत्सव कार्यक्रम में बुधवार को रामायण का अखंड पाठ सुबह 10 बजे से शुरू होगा। दोपहर 12 बजे संत समागम तथा अपराह्न 4.30 बजे धर्म ध्वजा स्थापना और सत्संग हॉल का अनावरण होगा। शाम 5 से 7 बजे तक संत समागम, शाम 7 से 7.30 बजे तक आरती का आयोजन होगा। गुरुवार, सुबह 8 बजे रामायण अखंड पाठ का भोग, सुबह 9 से 10 बजे तक बाल भोग, सुबह 10.30 से दोपहर 12 बजे तक संत समागम, दोपहर 1 बजे से भंडारे का आयोजन किया जायेगा।

सोनम Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned