Security: घरों तक सब्जियों के पैकेट, मास्क-सेनेटाइजर जरूरी

घरेलू सामान भी ऑनलाइन अथवा होम डिलीवरी से सीधे मंगवाई जा रही हैं।

By: raktim tiwari

Published: 14 Jun 2020, 07:52 AM IST

रक्तिम तिवारी/अजमेर.

अनलॉक 1.0 होने के बाद लोगों ने कोरोना से बचाव की जिम्मेदारी खुद उठानी शुरू की है। औंकार नगर विकास समिति इसका बेहतरीन उदाहरण है। समिति ने ना केवल सुरक्षा व्यवस्था बनाई है, बल्कि बाहरी लोगों के लिए नियम-कायदे तय किए हैं। ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

सिविल लाइंस स्थित औंकार नगर में आसानी से प्रवेश नहीं मिलता है। कॉलोनी के मुख्य गेट पर बॅरियर लगा है। समिति ने 8-8 घंटे की ड्यूटी के लिए तीन सुरक्षाकर्मी तैनात किए हैं। सुरक्षाकर्मी की गुमटी में रजिस्टर रखवाया गया है। कॉलोनी में प्रवेश से पहले आगंतुक को नाम, पता, मोबाइल नंबर, समय और मुलाकात करने वाले की जानकारी लिखनी जरूरी की गई है।

Read More: एडीए से सम्बन्धित कार्य के लिए ऑनलाइन ही जमा होगा आवेदन

पैकेट में फल-सब्जियों की सप्लाई
कॉलोनी निवासी महेंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि यहां खुले में सब्जियां-फल बेचने पर रोक है। सब्जी वाले को फोन पर ऑर्डर दिया जाता है। वह प्रत्येक परिवार की जरूरत के मुताबिक पैकेट बनाकर सप्लाई करता है। उसे पैसे भी राउन्ड फिगर में रखने के निर्देश दिए हैं, ताकि रेजगारी-खुले रुपए का चक्कर नहीं रहे। घरेलू सामान भी ऑनलाइन अथवा होम डिलीवरी से सीधे मंगवाई जा रही हैं।

मास्क-सेनेटाइजर जरूरी
कॉलोनी निवासी और आगंतुक बगैर मास्क प्रवेश नहीं कर सकते हैं। बॅरियर पर सुरक्षाकर्मी से सेनेटाइजर लेकर हाथ साफ करना जरूरी है। सुरक्षाकर्मी 8-8 घंटे की ड्यूटी करते हैं। जल्द ही कॉलोनी में सीसीटीवी लगाए जाएंगे।

Read More: Memorandum: माफ करें एडमिशन फीस, परीक्षाओं में सुरक्षा इंतजाम

भेजते हैं 5-5 मरीज
सिंह ने बताया कि कॉलोनी निवासी डॉ. आनंद शर्मा चिकित्सक हैं। उनके रोजाना काफी मरीज आते हैं। सुरक्षाकर्मी पांच मरीजों को ही चिकित्सक के घर भेजता है। सरकार के निर्देशानुसार उन्हें एकसाथ रुकने-बैठने की इजाजत नहीं है।

Read More: PHED : पानी आते ही यहां लग जाता है बूस्टरों का मेला

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned