scriptSevere heat: Electricity demand increased by 44 percent in 11 district | भीषण गर्मी: प्रदेश के 11 जिलों में 44 प्रतिशत बढ़ी बिजली की मांग | Patrika News

भीषण गर्मी: प्रदेश के 11 जिलों में 44 प्रतिशत बढ़ी बिजली की मांग

राजसमंद में रिकॉर्ड 115.35 प्रतिशत की बढोतरी,

अजमेर जिले में 75.15 और चित्तौड़ में 69.10 प्रतिशत की बढोतरी,

मांग और आपूर्ति में कमी के कारण झेलनी पड़ रही है कटौती

अजमेर

Updated: June 02, 2022 09:42:42 pm

भूपेन्द्र सिंह

इस वर्ष पड़ रही भीषण गर्मी के कारण अजमेर विद्वुत वितरण निगम के तहत आने वाले 11 जिलों में बीते साल की तुलना में बिजली की खपत 44.18 प्रतिशत बढ़ गई है। गर्मी से निपटने के लिए धडल्ले से पंखें, कूलर व एसी चलाए जा रहे हैं जबकि बारिश नहीं होने के कारण खेती में बिजली की मांग बढ़ गई है। ऐसे में निगम के लिए बिजली की मांग व आपूर्ति में संतुलन बनाने में मुश्किल आ रही है। बिजली की मांग व आपूर्ति में कमी के कारण लोेगों को बिजली कटौती का भी सामना करना पड़ रहा है।मई 2021 मेें बिजली की मांग 11 जिलों में 16785.78 लाख यूनिट थी। यह मांग मई 2022 में बढ़कर 24201.35 लाख यूनिट पहुंच गई। देखा जाए तो गत वर्ष मई से इस वर्ष मई के महीने में बिजली की मांग में 7415.57 लाख यूनिट की बढ़ोतरी हुई है। यह पिछले साल से बिजली की मांग में 44.18 प्रतिशत अधिक है। अजमेर विद्युत वितरण निगम का राजसमंद ऐसा अकेला जिला है जिसमें गत वर्ष मई की तुलना में इस वर्ष में 835.35 लाख यूनिट के साथ बिजली की मांग में 115.35 प्रतिशत की बढोतरी दर्ज हुई है। वहीं प्रतापगढ़ में बिजली की मांग में सिर्फ 16.89 प्रतिशत की बढोतरी हुई है।
Ajmer Discom
Ajmer Discom
इन जिलों में रिकॉर्ड बढोतरीअजमेर जिला सर्किल में बिजली की मांग में रिकॉर्ड बढोतरी दर्ज हुई है। यहां बिजली की मांग में 630.51 लाख यूनिट की बढ़ोतरी हुई है। यह बढोतरी 75.15 प्रतिशत है। चित्तौड में 1079.35 लाख यूनिट बढोतरी हुई है। यह पिछले साल की तुलना में 69.10 प्रतिशत अधिक है। भीलवाड़ा में 1158.90 लाख यूनिट बढोतरी हुई है। यहां बिजली खपत 49 .06 प्रतिशत बढ़ी है। उदयपुर में 788.25 लाख यूनिट की बढोतरी के साथ ही यहां बिजली की मांग 43.06 प्रतिशत बढ़ी है।
किस जिले में कितनी बढ़ोतरीअजमेर सिटी सर्किल में बिजली की मांग में 34.76 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। इसी तरह नागौर में 35.75 प्रतिशत, झुंझुनू में 27.83 प्रतिशत तथा सीकर में 31.46 प्रतिशत की बढोतरी हुई है। बांसवाड़ा में 20.29 प्रतिशत, डूंगरपुर में 24.36 प्रतिशत बढोतरी हुई है। अजमेर सिटी में बिजली की मांग मई 2021 में 74.75 मेगावाट थी जबकि इस वष मई में यह 94.47 मेगावाट पहुंच गई।
काेरोना काल में कम थी मांगएक तरफ जहां कोयले की कमी है तो वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन खुलने और उद्योग धंधे चालू होने से बिजली की खपत में पिछले वर्ष से लगभग डेढ़ गुना वृद्धि हो गई है। जिसके कारण अजमेर डिस्कॉम में बिजली की मांग पिछले साल की तुलना में बढ़कर 242.1 करोड़ यूनिट हो गई है जो कि गत वर्ष कोरोना काल में 167 करोड़ यूनिट थी। यानी इस वर्ष अब तक वित्तीय वर्ष में मांग में 74 करोड़ यूनिट की वृद्धि हो गई है।
अजमेर जोन में हाल खराबबिजली की सर्वाधिक बढोतरी अजमेर जोन के भीलवाड़ा में 11.59 करोड़ यूनिट की हुई है। नागौर में पिछले वर्ष की तुलना में 10 करोड यूनिट की बढोतरी हुई है यह डिस्कॉम के लिए चिंता का विषय है क्योंकि नागौर सर्वाधिक बिजली चोरी वाले 3 जिलों में से एक है। यहां बिजली चोरी का सर्वाधिक आंकड़ा पाया गया है। अजमेर संभाग में पिछले वर्ष की तुलना में 32 करोड़ यूनिट की अधिक मांग है जो कि अजमेर डिस्कॉम में सर्वाधिक है। भीलवाड़ा, राजसमन्द, अजमेर, उदयपुर तथा चित्तौड़ में बिजली की मांग उद्योगों के कारण बढ़ी है। यहां से राजस्व भी मिलेगा। जबकि सीकर, झुंझुनू व नागौर में बिजली की मांग बढ़ने से यहां छीजत बढेगी और निगम को नुकसान उठाना पड़ेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 16 बागी विधायक अगर फ्लोर टेस्ट में नहीं देंगे वोट तो क्या होगी तस्वीर, यहां जानें पूरा समीकरणMaharashtra Political Crisis: क्या उद्धव ठाकरे के इस फैसले ने बिगाड़ा सारा खेल! NCP की भूमिका पर भी उठ रहे है सवालMaharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पासSecurity To Ambani Family: मुकेश अंबानी की सुरक्षा से जुड़े मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई त्रिपुरा HC के आदेश पर रोकजावेद पंप ने खोला राज, अटाला हिंसा में मौलाना और कई नेताओं के नाम आए सामने
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.