scriptSome called the victory of farmers and some called Modi farmer friendl | कुछ ने किसानों की जीत तो कुछ ने मोदी को किसान हितैषी बताया | Patrika News

कुछ ने किसानों की जीत तो कुछ ने मोदी को किसान हितैषी बताया

किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में मोदी के प्रयास सराहनीय

अजमेर

Published: November 19, 2021 04:54:16 pm

अजमेर. केन्द्र सरकार की ओर से बनाए गए तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के निर्णय के बाद अजमेर जिले के किसान एवं किसान संगठनों ने स्वागत किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से कृषि कानूनों को वापस लेने के बाद कुछ जगह किसानो ने मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया। वहीं कुछ किसानों ने प्रधानमंत्री मोदी को किसान हितैषी बताते हुए कहा कि हर किसान को प्रतिवर्ष 6 हजार रुपए की आर्थिक मदद दी जा रही है। किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में मोदी के प्रयास सराहनीय रहे हैं।
,
कुछ ने किसानों की जीत तो कुछ ने मोदी को किसान हितैषी बताया,कुछ ने किसानों की जीत तो कुछ ने मोदी को किसान हितैषी बताया
किसानों की जीत, लेकिन सरकार बनाए एमएसपी का कानून

आज तीन कृषि कानून मोदी सरकार ने वापस ले लिए हैं। जो पिछले साल 5 जून को लोकसभा में पास किए। आज मोदी सरकार ने इन कानून को वापस ले लिए हैं। यह किसानों की बहुत बड़ी जीत है। संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने घोषणा कर दी है कि जब तक भारत सरकार 23 फसलों की एमएसपी न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषणा नहीं करती है, मूल्य निर्धारित नहीं होती है और कानून नहीं बन जाता तब तक आंदोलन जारी रहने वाला है। यह देश का सबसे बड़ा आंदोलन रहा है। करीब 700 किसान शहीद हो गए। कानून वापस लेने से पूरे देश के किसानों में जोश है।
बालूराम भींचर, जिला अध्यक्ष किसान महापंचायत अजमेर

मोदी हर साल प्रति किसान 6 हजार रुपए की दे रहे हैं मदद

जो मोदी ने कानून वापस लिए हैं वह किसानों के हित में है। जो कानून लिए हैं तो दिक्कत नहीं है। राजस्थान के किसानों को वैसे भी कोई मतलब नहीं था। मोदी ने भारत के लिए काम किए हैं, किसानों के हित में वापस काम किए हैं वो कोई नहीं कर सकते हैं। किसानों के हित में मोदी आज भी काम कर रहे हैं। हमें प्रतिवर्ष 6 हजार रुपए प्रति किसान को दिए जा रहे हैं। चाहे एक बिस्वा जमीन हो चाहे 100 बिस्वा जमी हो, सभी किसानों को हर साल मदद मिल रही है। चाहे एकजो भारत के साथ अच्छा काम हो रहा है, विदेशों में मोदी व किसानों का नाम हो रहा है, यह हमारी उपलब्धि है।
रामस्वरूप तेली, किसान यूनियन पदाधिकारी भिनाय

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.