Strike: पेट्रोल-डीजल पम्प डीलर्स रखेंगे 10 को हड़ताल

हालात को देखते हुए 10 अप्रेल को सुबह 6 से रात्रि 12 बजे तक पेट्रोल-डीजल की खरीद और बिक्री बंद रखी जाएगी।

By: raktim tiwari

Published: 05 Apr 2021, 08:28 AM IST

अजमेर.

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने राज्य में डीजल-पेट्रोल की वेट दरें घटाने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है। एसोसिएशन ने 10 अप्रेल को पेट्रोल-डीजल पम्प बंद कर सांकेतिक हड़ताल का फैसला भी किया है।

एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष संतोष वर्मन और सचिव दीपक ब्रह्मवर ने बताया कि राजस्थान में अन्य राज्यों की तुलना में पेट्रोल-डीजल की वेट दर सर्वाधिक है। खासतौर पर श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, भरतपुर, उदयपुर ,सिरोही, जालौर, बांसवाड़ा, धौलपुर, झालावाड़ आरै कोटा में पेट्रोल और डीजल का मूल्य 7 से 10 अधिक रुपए रहता है। वेट दर और कीमतों में उछाल के चलते पेट्रोल पम्प संचालकों और डीलर्स की आजीविका पर असर पड़ रहा है। हालात को देखते हुए 10 अप्रेल को सुबह 6 से रात्रि 12 बजे तक पेट्रोल-डीजल की खरीद और बिक्री बंद रखी जाएगी।

ना डीलर्स ना सरकार को लाभ
वर्मन ने बताया कि सरकार ने डीजल पर वेट दर 18 से बढ़ाकर 28 प्रतिशत और पेट्रोल पर 28 से 36 प्रतिशत कर दिया है। इस प्रकार डीजल पर कुल 10 और पेट्रोल पर 12 प्रतिशत की वृद्धि हो गई है। हालांकि सरकार ने 28 जनवरी को पेट्रोल और डीजल पर वेट में 2 प्रतिशत की रियायत दी थी। लेकिन इससे डीलर्स और सरकार को खास लाभ नहीं हुआ है। सरकार को 5 जुलाई 2019 के बाद से बढ़ाई गई वेट दर वापस लेनी चाहिए।

करें जांच, बनाएं पूल एकाउन्ट
एसोसिएश ने बतायाकि राज्य में ऑयल कम्पनियों द्वरा परिवहन की धनराशि पर एक पूल एकाउन्ट बनना चाहिए। सरकार को इसी एकाउन्ट से भुगतान किया जाना चाहिए। इसी तरह बायो डीजल पम्प के बारे में पेट्रोलिमय मंत्रालय के आदेशानुसार गुजरात की तर्ज पर अभियान चलाकर गहन जांच करनी चाहिए।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned