जब हैलीकॉप्टर से दुल्हनिया लेकर आया दूल्हा तो राजस्थान के इस गांव में हुआ ये हाल .......

ग्रामीणों में हैलीकॉप्टर को देखने का रहा कौतूहल

दहेज की जगह लिया केवल 1 रुपया

By: Preeti

Published: 18 Feb 2020, 12:35 PM IST

अजमेर/बोराड़ा. ग्रामीण क्षेत्र में जहां रोडवेज बसें तक नहीं पहुंचती,वहां अचानक हैलीकॉप्टर (helicopter) आ जाए तो लोगों को आश्चर्य होना लाजिमी है। खरवड़ गांव में एक दूल्हा शादी के बाद हेलीकॉप्टर से दुल्हन को लेकर गांव पहुंचा तो लोगों की भीड़ जुट गई। कई महिलाएं और बच्चे उस समय कौतूहल आकाश की ओर देखने लगे जब हैलीकॉप्टर उड़ता दिखाई दिया। जब यह जमीन पर उतरा तो ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। कोई हैलीकॉप्टर के मोबाइल पर फोटो लेता नजर आया तो कई युवक सैल्फी लेने से नहीं चूके।

दरअसल, खरवड़ निवासी भगवत सिंह राठौड़ के पुत्र सत्येन्द्र सिंह राठौड़ का विवाह कोटड़ी (भीलवाड़ा) निवासी तेजसिंह राणावत की पुत्री कृष्णा कंवर के साथ हुआ है। सात फेरे के बाद बाद दूल्हा सत्येन्द्र दुल्हन को हैलीकॉप्टर से लेकर अस्थाई हेलीपेड पर उतरा। ग्रामीणों व परिजन ने पुष्पवर्षा कर नव दम्पती का स्वागत किया। लोगों की भीड़ को देखते हुए बोराड़ा थानाधिकारी गुमान सिंह मय जाब्ता मौजूद रहे। दूल्हे के दादा जवान सिंह व महेंद्र सिंह,पृथ्वी सिंह, जगदीश सिंह, रणवीर सिंह आदि परिजन ने नवविवाहित जोड़े का परम्परागत रूप से स्वागत किया।

दहेज से परहेज

वर्तमान युग में दहेज जैसी कुप्रथा का विरोध करते हुए एक साधारण परिवार के सदस्य भगवत सिंह राठौड़ ने अपने पुत्र के विवाह में समधि से दहेज लेने के लिए मना कर दिया। कन्यादान और दहेज के रूप में मात्र एक रुपया लिया है। जो समाज के लिए मिसाल मानी जा सकती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned